जागरण संवाददाता, धनबाद: झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन (जेएससीए) के लंबे समय तक अध्यक्ष रहे अमिताभ चौधरी के असामयिक निधन की खबर से धनबाद का क्रिकेट जगत सदमे में है। धनबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष व जेएससीए के पूर्व उपाध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि उनके नहीं रहने से झारखंड व धनबाद क्रिकेट को अपूरणीय क्षति पहुंची है। जेएससीए कार्यकारिणी समिति के सदस्य बिनय कुमार सिंह ने भी उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

डीसीए अध्यक्ष ने कहा कि उनके कार्यकाल में धनबाद क्रिकेट ने काफी ऊंचाइयां हासिल की। जब कीनन स्टेडियम बीसीसीआइ के मैचों के लिए नहीं मिला तो काफी सारे बोर्ड मैचों के आयोजन का जिम्मा धनबाद को मिला। उस दौर में एक सत्र में सर्वाधिक 36 बोर्ड मैच कराने का सौभाग्य धनबाद को मिला। इससे धनबाद क्रिकेट को फायदा भी हुआ। जेएससीए स्टेडियम बनने के बाद सबसे पहले उन्होंने धनबाद के सामने अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम बनाने का प्रस्ताव रखा। मई 2014 में पत्र लिख जिला प्रशासन से इसके लिए जमीन उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया था। जमीन नहीं मिलने की वजह से धनबाद में एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का सपना अभी अधूरा ही है। मनोज कुमार ने कहा कि उनके निधन से धनबाद क्रिकेट को झटका लगा है।

धनबाद के क्रिकेट प्रेमी कल देंगे अमिताभ चौधरी को श्रद्धांजलि

धनबाद क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि शुक्रवार को दोपहर 12 बजे अमिताभ चौधरी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए धनबाद क्रिकेट एसोसिएशन की ओर से एसोसिएशन के कार्यालय रणधीर वर्मा स्टेडियम गोल्फ ग्राउंड में श्रद्धांजलि सभा होगी। इसमें धनबाद क्रिकेट एसोसिएशन के सभी पदाधिकारी और खिलाड़ी उपस्थित रहेंगे। अमिताभ चौधरी के धनबाद प्रवास और खेल के लिए दिए विकास पर चर्चा होगी। डीसीए के वरीय उपाध्यक्ष साधवेंद्र सिंह, उपाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह, संजीव झा, महासचिव उत्तम विश्वास, कोषाध्यक्ष ललित जगनानी, सहायक कोषाध्यक्ष सुनील कुमार, संयुक्त सचिव बाल शंकर झा, बीएच खान समेत धर्मेंद्र कुमार, राजन सिन्हा, डॉ राजशेखर सिंह, एसए रहमान, मनीष वर्धन, द्वारिका तिवारी, संजय कुमार, सुनील कुमार, ओपी राय, नीरज पाठक, लखन पाल व तमाम क्रिकेट प्रेमियों ने भी उनके निधन पर शोक जताया है।

Edited By: Deepak Kumar Pandey