बिजली उपभोक्ताओं को निशाना बना रहे साइबर अपराधी

देवरिया: जिले में साइबर अपराधियों ने अपना अपराध का ट्रेंड बदल दिया है। अब बिजली विभाग के उपभोक्ताओं को निशाना बनाने लगे हैं। हर दिन बिजली विभाग के उपभोक्ताओं को मैसेज भेजकर अपने जाल में फंसाने का कार्य कर रहे हैं। इसकी शिकायत साइबर क्राइम सेल व बिजली विभाग के अधिकारियों तक पहुंचने लगी है। साइबर क्राइम सेल की टीम जल्द ही शातिरों को गिरफ्तार करने का दावा भी कर रही है।

पहले साइबर अपराधी एटीएम कार्ड बदल कर जालसाजी करते थे। लेकिन अब ट्रेंड बदल दिए हैं। साइबर अपराधी बिजली उपभोक्ताओं के मोबाइल पर मैसेज भेज रहे हैं। मैसेज करने वाले अपने को बिजली विभाग का कर्मचारी बताते हैं। मैसेज में कनेक्शन काटने की धमकी दी जाती है। इसका रास्ता भी साइबर अपराधी निकाल लेते हैं। लिखते हैं कि कार्रवाई से बचना है तो जल्द इस नंबर पर काल करो। फिर जोड़तोड़ शुरू करते हैं। उपभोक्ताओं से रुपये वसूलते हैं।

मैसेज आते ही परेशान हो जा रहे लोग

साइबर अपराधियों का मैसेज दिन में नहीं, बल्कि शाम को ही आता है और नौ बजे रात तक ही बिजली बिल जमा करने को कहा जाता है, अन्यथा कनेक्शन काटने की बात कही जाती है। कुछ लोग समझ जाते हैं तो बच जाते हैं, नहीं तो कुछ लोग उनकी जाल में फंस जाते हैं।

इस तरह की शिकायतें आ रही है, उपभोक्ता जागरूक हों। उस तरह का मैसेज बिजली विभाग की तरफ से उपभोक्ताओं को नहीं भेजा जाता है। अगर कोई मैसेज आता है तो उसे गंभीरता से न लें और दूसरे दिन कार्यालय से संपर्क करें।

जीसी यादव, अधीक्षण अभियंता

Edited By: Jagran