नामची भाइचुंग स्टेडियम में राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस पालन

-वैकल्पिक मार्ग न होने से दिक्कत अधिक,सिक्किम आमा सशक्तिकरण योजना व मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना जनता को समर्पित की,निसंतान दंपति को प्रजनन उपचार के लिए तीन लाख रुपये तक की आर्थिक मदद

आमा सशक्तिकरण योजना के तहत गरीब माताओं को वार्षिक 20 हजार रुपये उनके बैंक खाते में भेजे जाएंगे

-------------

संवाद सूत्र,गंगटोक: मुख्यमंत्री पीएस तामांग ने रविवार को दक्षिण सिक्किम के नामची स्थित भाइचुंग स्टेडियम में आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में राज्य के नागरिकों के हित में कुछ योजनाएं जनता को समर्पित की। इन योजनाओं में सक्किम आमा सशक्तिकरण योजना व मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना है, इसके तहत निसंतान दंपति को प्रजनन उपचार के लिए तीन लाख रुपये तक की आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी। सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा देश के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमावर्ती राज्य सिक्किम को जोड़ने वाली राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच-10) की स्थिति पर अतिचिंतनीय है कहा कि इस मार्ग का वैकल्पिक मार्ग नहीं होने से सिक्किम वासियों को समस्या हो रही है। मुख्यमंत्री ने आजादी के अमृत महोत्सव पर देश को आजाद दिलाने में संघर्ष करने वाले सिक्किम के दो स्वतंत्र सेनानी त्रिलोचन पोखरेल और हेलेन लेप्चा को भी याद किया। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्ष के कारण ही आज भारत स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में विश्व के समक्ष मौजूद है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने प्रतिबंधित क्षेत्रों में पर्यटकों के भ्रमण के लिए ऑनलाइन परमिट सुविधा का लोकार्पण करते हुए कहा कि पर्यटक इसका फायदा एंड्रॉयड फोन से भी उठा सकते है। इसके साथ ही सिक्किम आमा सशक्तिकरण योजना और मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना जनता को समर्पित की गई। जानकारी मिली है कि आमा सशक्तिकरण योजना के तहत गरीब माताओं को वार्षिक 20 हजार रुपये उनके बैंक खाते में भेजे जाएंगे। इस योजना से 18 से 59 वर्ष की महिलाएं लाभान्वित होंगी। इसके वात्सल्य योजना के तहत निसंतान दंपति को प्रजनन उपचार के लिए तीन लाख रुपये तक का वित्तीय सहयोग मिलेगा, इसका लाभ केवल सिक्किम सब्जेक्ट प्रमाणपत्र धारक ही ले सकते है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री गोले ने सभी महिला सरकारी कर्मचारियों को माँ बनने के बाद एक साल और पिता बनने वाले कर्मचारियों को 15 दिन की छुट्टियों बढ़ाकर एक माह करने की घोषणा की। उन्होंने आगे कहा कि राज्य के अस्थायी शिक्षकों को आठ साल में स्थायी करने की नीति तैयार है। इसमें राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद के नियम मुताबिक 621 अस्थायी शिक्षकों को स्थायी किया जाएगा। उन्होंने अस्थायी सरकारी कर्मचारियों के लिए भी मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सुविधा योजना के तहत रेफरल स्वास्थ्य उपचार के लिए 2 लाख 50 हजार रुपये तक का प्रतिपूर्ती राशि प्रदान किया जाएगा।

कार्यक्रम के अवसर पर पुलिस मेडल, अवार्ड और प्रमाणपत्र वितरित किया गया। इस अवसर पर गृह मंत्रालय से प्राप्त वर्ष 2020 के लिए सेवानिवृत्त पुलिस अधीक्षक अंगमु भूटिया को राष्ट्रपति पुलिस मेडल, वर्ष 2021 के लिए पश्चिम जिला में पुलिस अधीक्षक रह चुके टाशी वाग्याल को पुलिस पदक और वर्ष 2020 के लिए पुलिस मुख्यालय की अतिरि1त पुलिस अधीक्षक अंबिका सुब्बा को पुलिस पदक से सम्मानित किया गया। इसके साथ ही अग्निशमन सेवा में वर्ष 2021 के लिए इंद्र कुमार राई, बुद्धि लाल सुब्बा, विशाल कुमार गुरुंग (सेवानिवृत्त), जामयाग टी भूटिया, सोनम भूटिया और दिलीप कुमार दरनाल को उनकी सराहनीय सेवा के लिए अग्निशमन सेवा पदक से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अवसर पर सशस्त्र सीमा बल, सिक्किम पुलिस, आईआरबीएन लगायत नामची स्कूल के विद्यार्थियों ने परेड में भाग लिया। इसके साथ ही स्वतंत्रता दिवस फुटबॉल प्रतियोगिता का फाइनल मैच भी खेला गया।

-----------------------

चित्र परिचय: भाइचुंग स्टेडियम में आयोजित परेड का निरीक्षण करते हुए मुख्यमंत्री

Edited By: Jagran