संवाद सहयोगी, कपूरथला : पंजाब सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। सिविल सर्जन कपूरथला डा. गुरिदरबीर कौर ने कहा कि पंजाब सरकार की एडवाइजरी के अनुसार, कोविड को फैलने से रोकने के लिए लोगों को मास्क पहनना चाहिए और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना चाहिए और सामाजिक दूरी बनाए रखनी चाहिए।

सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से बचना चाहिए और यदि किसी व्यक्ति में कोविड-19 के लक्षण हैं, तो उन्हें तुरंत जांच करवानी चाहिए और कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करना चाहिए।

सिविल सर्जन डा. गुरिदरबीर कौर ने आम जनता से अपील की कि कोविड से बचने के लिए पूर्ण रूप से कोविड टीकाकरण अवश्य कराएं। उन्होंने कहा कि कपूरथला जिले में अब तक 1385629 कोविड इंजेक्शन दिए जा चुके हैं, जिसमें से 18 वर्ष से अधिक आयु के 98.64 प्रतिशत लाभार्थियों को पहली डोज, 89.27 प्रतिशत ने दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने आम जनता से अपील की कि टीकाकरण के महत्व को ध्यान में रखते हुए 12 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों का कोविड रोधी टीकाकरण टीकाकरण करवाना चाहिए करवाई। उन्होंने कहा कि देश भर में और पंजाब के कुछ जिलों में पिछले कुछ दिनों में कोविड मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है, जो चिता का विषय है। इसलिए जिन लोगों को अभी तक कोविड का टीका नहीं लगा है, उन्हें कोविड का टीका लगवाना चाहिए और जिन्हें दूसरी खुराक मिली है, उन्हें भी बूस्टर खुराक मिलनी चाहिए। सिविल सर्जन कपूरथला डा. गुरिदरबीर कौर ने आम जनता से जन्माष्टमी के अवसर पर मंदिरों और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की अपील की, ताकि हम अपने देश, अपने राज्य और अपने जिले को इस बीमारी से बचा सकें। उन्होंने सरकार द्वारा जारी निर्देशों का पालन करने और कोरोना महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ सहयोग करने के लिए आम जनता का समर्थन मांगा। सिविल सर्जन डा. गुरिदरबीर कौर ने बताया कि कपूरथला जिले में अब तक 22478 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 21835 ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि अब तक कोविड से 596 मौतें हो चुकी हैं। जिले में इस समय 47 एक्टिव केस हैं, जबकि अब तक 8 लाख 37 हजार 224 सैंपल लेकर कोविड जांच की जा चुकी है।

Edited By: Jagran