तालाब ने दिखाया भ्रष्टाचार का रास्ता

संवाद सहयोगी, हनवारा(गोड्डा) : हनवारा-संहौला मुख्य सड़क के बीचों बीच हनवारा हाट के समीप रविवार को हाइवा सड़क के गड्ढे में जाने के बाद गुल्ला टूट गया। लगभग एक किलोमीटर दूर तक बड़े वाहनों की लंबी लाइन गई। 10 घंटे तक बड़े वाहनों का आवागमन बाधित रहा। इस दौरान हनवारा थाना के पुलिस एसआई राजेंद्र कुमार महतो एवं पुलिस बल लगातार जाम हटाने को लेकर प्रयासरत दिखे। इन दिनों महागामा अनुमंडल अंतर्गत केंचुआ चौक होते हुए नयानगर से लेकर हनवारा होते हुए बिहार की ओर जानेवाली मुख्य सड़कों की स्थिति दयनीय हो चुकी है। सड़क के गड्ढे में पानी भरने से वह तालाब बन चुका है। तालाब बता रहा है कि इन सड़क को बनाने में कितना भ्रष्टाचार हुआ है। इन गड्ढे वाली सड़कों में रोजाना छोटे एवं बड़े वाहनों का गुल्ला टूटकर वाहन पड़े हुए हुए रहते हैं। सड़कों को देखकर वाहन चालकों को यह भी पता नहीं चल पाता है कि सड़क के ऊपर गड्ढा है या फिर गड्ढे में सड़क है। रोजाना इस गड्ढे में बड़े वाहन फंसते हैं। राहगीरों का भी पैदल चलना दुर्लभ हो गया है। थोड़ी सी बारिश होने की स्थिति में पूरा सड़क तालाब के समान जलमग्न हो जाता है। कभी-कभी तो सड़क जाम की बजह से एंबुलेंस पर इलाज के लिए ले जा रहे मरीजों को रास्ते में ही अपनी जिन्दगी से हाथ धोना पड़ जाता है।

करीब ढाई वर्ष पूर्व पीडब्लूडी विभाग की ओर से सड़क निर्माण कार्य को आधा अधूरा छोड़ दिया गया है। तालाबनुमा सड़क साफ बता रही है कि इसमें कितना भ्रष्टाचार हुआ है। बहरहाल अभी सड़कों की स्थिति इस कदर दयनीय हो चुकी है कि केंचुआ चौक महागामा होकर नयानगर से नरैनी होते हुए हनवारा से बिहार की ओर जानेवाली मुख्य सड़कों के बीचोंबीच सैकड़ों जगहों पर करीब दो से तीन फीट की गहराई तक बड़े-बड़े तालाबनुमा गड्ढा बने हुए हैं। जहां कि थोड़ी सी भी बारिश होने की स्थिति में लबालब पानी भर जाता है। इस क्षेत्र के लोगों के लिए महागामा अनुमंडल मुख्यालय तक पहुंचने के लिए यही एक मुख्य रास्ता है। इस सड़कों से होकर प्रतिदिन क्षेत्र के लोगों के आलावा बिहार एवं झारखंड के बड़े-बड़े राजनीतिक दल के नेताओं एवं पदाधिकारियों का भी आवागमन होता है। इसके बावजूद इस सड़कों की हालत में सुधार नहीं हो पा रहा है। स्थानीय लोगों ने महागामा विधायक दीपिका पांडे सिंह से यह सड़क की दुर्दशा को सुधारने की मांग की है।

Edited By: Jagran