संवाद सहयोगी, डेरा बाबा नानक : रावी दरिया के तेज बहाव के कारण मंगलवार से घोनेवाल लिक सड़क में पड़े कटाव के कारण घनिए के बेट व बीएसएफ की पोस्टों का संपर्क टूटा हुआ है। वहीं इस कटाव को भरने के लिए मंडीकरण बोर्ड अधिकारियों के अलावा सीमा पर तैनात बीएसएफ व फौज के जवान जुटे हुए हैं। गौरतलब है कि घोनेवाले लिक सड़क रावी दरिया पर बने कस्सोवाल पुल के साथ जोड़ती है। इस पुल के माध्यम से घनिए के बेट, भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तैनात बीएसएफ के सेक्टर गुरदासपुर की 10 बटालियन की चौंकी नंगली पोस्ट, घनिए के बेट, बसंतर व कस्सोवाल पोस्ट को जाने का मुख्य रास्ता है। इसके अलावा फौज के जवान भी इसी रास्ते से गुजरते हैं, लेकिन रावी दरिया में बढ़े पानी के कारण गांव घोनेवाले लिक सड़क में कटाव के बाद बीएसएफ, फौज व बेट क्षेत्र की हजारों एकड़ जमीन के मालिक किसानों को पुल टूटने के बाद फौज की ओर से किश्तियों के माध्यम से रावी दरिया से आर पार करवाया जा रहा है।

वीरवार को रावी के पानी का स्तर कम होने के चलते बीएसएफ व फौज के जवानों के अलावा मंडीकरण बोर्ड के अधिकारियों की ओर से कटाव को भरा जा रहा है। इस संबंधी बीएसएफ के डीआइजी प्रभाकर जोशी ने बताया कि रावी दरिया के तेज बहाव पानी के कारण लिक सड़क में पड़े कटाव को भराने के लिए बीएसएफ के जवान लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि बीएसएफ के जवान देश की सीमा की रक्षा के साथ साथ सीमा क्षेत्र के लोगों के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़े है। मंडीकरण बोर्ड के एक्सईयन बलदेव सिंह बाजवा ने बताया कि गांव घोनेवाल लिक सड़क में तेज बहाव पानी के कारण पड़े कटाव को भरा जा रहा है। शाम तक अस्थाई पुल बना कर कस्सोवाल पुल का संपर्क जोड़ दिया जाएगा।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट