पटना, एजेंसी। बिहर में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद से ही जदयू और बीजेपी में वार-पलटवार का दौर जारी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजेपी से नाता तोड़ने के बाद महागठबंधन के साथ मिलकर नई सरकार बना ली। जिसके बाद बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी लगातार नीतीश कुमार पर हमलावर हैं। जदयू की तरफ से भी लगातार पलटवार किया जा रहा है। रविवार को सुशील मोदी ने पीटीआइ से बात करते हुए कहा है कि नीतीश कुमार का पीएम मोदी के सामने कोई कद नहीं है।

'मंडल और कमंडल दोनों भाजपा के साथ'

बिहार में एनडीए टूटने के बाद सुशील मोदी लगातार सीएम नीतीश कुमार पर हमला कर रहे हैं। मुख्यमंत्री की तरफ से भी सुशील मोदी पर तंज कसा गया। लेकिन रविवार को बीजेपी के राज्यसभा सांसद ने पीटीआई से बात करते हुए कहा कि पीएम मोदी के सामने नीतीश कुमार कद नहीं है।

'नीतीश कुमार का घट रहा प्रभाव'

सुशील मोदी ने नीतीश कुमार के विपक्ष की तरफ से पीएम कैंडिडेट के रूप में उभरने की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि टीएमसी की ममता बनर्जी और टीआरएस के चंद्रशेखर राव जैसे बड़े दावेदार हैं। जनता दूल यूनाइटेड का प्रदेश में प्रभाव घट रहा है। मोदी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार का पीएम मोदी के सामने कोई कद नहीं है। राज्य के नेता के रूप में उनका प्रभाव कम हो रहा है, इसके साथ ही बिहार के बाहर उनका कोई प्रभाव नहीं है। उनसे (नीतीश कुमार) अधिक शक्तिशाली राज्य के नेता तो ममजा बनर्जी, केजरीवाल और तेलंगना के सीएम चंद्रशेखर राव हैं। उन्होंने सीएम नीतीश कुमार की लोकप्रियता और जनाधार दोनों में कमी आई है।

'मंडल और कमंडल दोनों बीजेपी के साथ'

सुशील मोदी ने कहा कि मंडल और कमंडल दोनों बीजेपी के साथ हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा को अब सभी वर्गों का समर्थन प्राप्त है। बीजेपी के राज्यसभा सांसद ने दावा किया है कि मंडल और कमंडल दोनों पार्टी के साथ हैं। और प्रधानमंत्री मोदी देश में ओबीसी की आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करते हैं।

Edited By: Rahul Kumar