संसू, चेरिया बरियारपुर (बेगूसराय)। शादी एक ऐसा शब्द है जिसे सुनकर कुंवारों का दिल मचल उठता है, चूंकि ये जीवन का एक ऐसा अनोखा पल होता है, जिसे मनुष्य यादगार बनाने की हर संभव प्रयास करता है। यहीं से एक नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं। परंतु, कोई आदमी अगर एक नहीं, दो नहीं, छह-छह शादी घरवालों के साथ अपने जीवन संगिनी को चकमा देकर कर ले तो उसे आप क्या कहेंगे?। यह समाज के लिए सोचनीय प्रश्न है। ऐसा ही कुछ मामला चेरिया बरियारपुर पंचायत के वार्ड संख्या पांच से सामने आई है। जहां एक युवक ने एक, दो नहीं, बल्कि छह महिलाओं से विवाह रचाकर एक इतिहास रच दिया है। 

'मेरे पति ने की छह शादी'

विदित हो कि जब पीड़िता पहली पत्नी पटना निवासी सत्यनारायण गौंड की पुत्री रूबी देवी इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंची तो चौंकाने वाले तथ्य उजागर हुए। रूबी देवी ने बताया कि उसकी शादी 2005 में चेरिया बरियारपुर निवासी हरि साह गौंड के पुत्र रंजन कुमार गौंड से हुई। उसके बाद उसका पति रंजन कुमार धोखा देकर दिल्ली में दूसरी, मनेर में तीसरी तथा इसके पश्चात चौथी, पांचवीं एवं छठी शादी झारखंड के दुमका जिला में कर ली। फिलहाल दुमका की एक तीन बच्चों की मां संग चेरिया बरियारपुर स्थित घर में रह रहा है। पीड़िता के अनुसार, 15 अगस्त के दिन रंजन कुमार ने उसके साथ मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया।

मामले की जांच में जुटी पुलिस

पीड़िता ने जब अपनी दर्द माता पिता को बताई तो मां पटना से दौड़ी चली आई और बेटी को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया तथा सारी बात की जानकारी ली। पीड़िता की मां ने कहा कि तीन घंटे चेरिया बरियारपुर थाने में भी बैठकर बिताई, परंतु मायूसी ही हाथ लगी। पूछे जाने पर थानाध्यक्ष अमर कुमार ने बताया कि महिला शिकायत लेकर आई थी। वह भरण-पोषण की मांग कर रही थी। उसे परिवार न्यायालय में भरण पोषण वाद दायर करने की सलाह देकर तत्काल भेज दिया गया है। पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गई है। घटना के बाद से रंजन कुमार गौंड फरार है।

Edited By: Rahul Kumar