पटना, जागरण टीम। बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद विपक्ष लगातार जनादेश के अपमान का आरोप लगा रही है। बीजेपी जिलों में धरना देकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर धोखा देने का आरोप लगा रही है। इस बीच विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) के अध्यक्ष और पूर्व मंत्री मुकेश सहनी ने बीजेपी पर हमला किया है। सहनी कहा कि आज जदयू के अलग होने के बाद भाजपा इसे जनादेश का अपमान कह रही है, लेकिन भाजपा ने भी 2017 में यही किया था जो आज राजद ने किया है। सहनी ने पूछा कि क्या उस समय जनादेश का अपमान नहीं था। 

'मेरी पार्टी के विधायक भी तोड़े गए'

सहनी ने कहा कि आज भाजपा प्रदेश स्तर से लेकर प्रखंड स्तर तक धरना दे रही है लेकिन जब हमारे तीन विधायकों को तोडकर अपने पाला में कर लिया था तब तो हमारी पार्टी ने कुछ नहीं कहा। उन्होंने कहा कि देश में ऐसा कोई राज्य नहीं जहां विपक्षी सरकार को भाजपा द्वारा परेशान नहीं किया जा रहा है।

पूर्व मंत्री ने गुरुवार को कहा कि हमारी ताकत ने यह साबित कर दिया है कि मल्लाह सिर्फ मछली ही नहीं मार सकता बल्कि राजनीति भी कर सकता है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से हमारी जाति के लोग चुनाव में एक टिकट पाने के लिए पूरी जिंदगी खपा देते थे, लेकिन आज हमलोग टिकट बांटते हैं। सहनी ने ये बातें पटना में पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के दौरान कही।

'हमारी मदद से बनी सरकार'

उन्होंने कहा कि हमारे समाज की ताकत है कि बहुत कम समय में यानी दो वर्षो में हमारी मदद से सरकार बनी और हमलोग सरकार में शामिल भी हुए। उन्होंने जोर देकर कहा कि बिना राजनीति ताकत के बिना हम अपने अधिकार की लड़ाई नहीं जीत सकते। जदयू, भाजपा और राजद की तरह संगठित होकर काम करने का आह्वान करते हुए कहा कि आज हमें अपनी ताकत का एहसास हो चुका है अब जरूरी है कि इस ताकत को एकजुट रखते हुए योजनाबद्ध तरीके से योजनाओं को जमीन पर उतारा जाए।

Edited By: Rahul Kumar