-प्रदर्शन कर विधायक रामकरण काला को ज्ञापन सौंपा, शामलात देह जमीन का मालिकाना हम काश्तकारों को देने की मांग की संवाद सहयोगी, शाहाबाद : भारतीय किसान यूनियन (चढूनी ग्रुप) ने शामलात देह जमीन का मालिकाना हक किसानों को दिए जाने की मांग को लेकर बुधवार को प्रदर्शन कर शुगरफेड चेयरमैन एवं विधायक रामकरण काला को ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री के नाम सौंपे गए ज्ञापन में विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर शामलात देह जमीन का मालिकाना हम काश्तकारों को देने की मांग की है। भाकियू ने सुनवाई न करने पर 25 अगस्त से विधायक निवास पर अनिश्चितकालीन पंचायत शुरू करने की भी बात कही है। शुगरफेड चेयरमैन एवं विधायक रामकरण काला ने किसानों को आश्वासन दिलाया कि किसी भी किसान की जमीन को नहीं छीना जाएगा।

इससे पहले भाकियू के पदाधिकारी बुधवार की सुबह बलिदानी उधम सिंह स्मारक परिसर में एकत्रित हुए। इसके बाद प्रदर्शन करते हुए विधायक निवास पर पहुंचे। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते भाकियू प्रवक्ता राकेश बैंस ने कहा कि भाकियू की ओर से चरखीदादरी के गांव बाढडा में आयोजित महापंचायत में यह फैसला लिया गया था। इसी फैसले के अनुसार आज प्रदेश भर में सभी विधायकों को ज्ञापन सौंपे गए हैं।

कानून रद करने की मांग

किसान नेता जसबीर मामूमाजरा ने कहा कि महापंचायत में लिए गए फैसले अनुसार 25 अगस्त को सभी कार्यकर्ता एवं किसान एक पंचायत लेकर विधायक के आवास पर पहुंचेंगे और विधायक से मांग करेंगे कि इस कानून को रद किया जाए। यह पंचायत तब तक जारी रहेगी जब तक यह कानून वापस नहीं लिए जाते और इसका सारा खर्चा विधायक उठाएंगे।

Edited By: Jagran