-युवा कांग्रेस ने दिया नारा, शहर में जुलूस निकाल कर किया प्रदर्शन

-भ्रष्टाचार, घोटाला, तस्करी आदि के विरुद्ध तृणमूल कांग्रेस को कोसा जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : पश्चिम बंगाल राज्य में सर्वत्र भ्रष्टाचार व घोटाला एवं तस्करी सरीखे अपराध और देश भर में अराजकता का आरोप लगाते हुए इसके विरुद्ध दार्जिलिंग जिला युवा कांग्रेस की ओर से रविवार शाम शहर में जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान बैनर प्रदर्शित करते हुए एवं नारेबाजी करते हुए प्रदर्शनकारियों ने पश्चिम बंगाल राज्य की तृणमूल कांग्रेस संचालित सरकार एवं केंद्र की भाजपा नीत मोदी सरकार को जम कर कोसा। कहा कि, 'पहले लड़े गोरों (अंग्रेजों) से, अब लड़ेंगे चोरों (तृणमूल-भाजपा) से'। प्रदर्शनकारियों ने इडी द्वारा गिरफ्तार किए गए राज्य के मंत्री पार्थ चटर्जी और सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए तृणमूल कांग्रेस के दिग्गज नेता अनुब्रत मंडल के पोस्टर भी लहराए व धिक्कारा। उन्होंने भ्रष्टाचार व घोटालों और अपराध, अराजकता व सांप्रदायिकता पर लगाम कर अविलंब समस्त दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिए जाने की मांग की। अन्यथा, जोरदार आंदोलन की चेतावनी दी है।

इस अवसर पर दार्जिलिंग जिला कांग्रेस के अध्यक्ष शंकर मालाकार ने कहा कि जब से देश में भाजपा नीत मोदी सरकार और पश्चिम बंगाल राज्य में तृणमूल कांग्रेस सरकार आई है तब से लोगों का जीना हराम हो गया है। वर्ष 2011 में जब से राज्य में तृणमूल कांग्रेस की सरकार आइ है तब से घोटाला पर घोटाला ही होता रहा है। पहले सारधा, नारदा घोटाला हुआ, फिर टीईटी घोटाला हुआ और अब एसएससी घोटाला सबके सामने है। वहीं, पशु तस्करी, कोयला तस्करी सरीखे अपराध भी सत्तारूढ़ दल के नेताओं-मंत्रियों के संरक्षण में अंजाम दिए जा रहे हैं। राज्य को लूट-खसोट कर तबाह व बर्बाद कर दिया गया है। इस पर लगाम लगनी चाहिए। वहीं, केंद्र की मोदी सरकार जो आए दिन देश के समस्त सार्वजनिक उपक्रमों को पूंजीपतियों के हाथों बेचे जा रही है। उसके संरक्षण में देश भर में अराजकता व सांप्रदायिकता चरम रूप लेती जा रही है, उसकी भी नकेल कसी जानी चाहिए।

उन्होंने इन मामलों के समस्त दोषियों को चिन्हित कर हरेक को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की मांग भी की है। अन्यथा, जोरदार आंदोलन की चेतावनी दी है। इस दिन विरोध प्रदर्शन में दार्जिलिंग जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष रोहित तिवारी, कांग्रेस नेता मोहन शर्मा व अन्य कई सम्मिलित हुए।

Edited By: Jagran