खाताधारकों का फूटा गुस्सा, एसडीएम कार्यालय पर किया प्रदर्शन

संवाद सहयोगी, खप्टिहाकलां : आर्यावर्त बैंक शाखा पपरेंदा से जुड़े निवाइच ग्राहक सेवा केंद्र के खाताधारकों ने गुरुवार को एसडीएम कार्यालय में विरोध प्रदर्शन किया। कहा कि बैंक मित्र ने उनके 14.36 लाख रुपये निकाल लिए हैं। उन्हें तत्काल पैसा दिलाया जाए। उधर, जिलाधिकारी के निर्देश पर गठित चार सदस्यीय टीम ने खाताधारकों व शाखा प्रबंधक से बातचीत की और उनके बयान दर्ज किए।

निवाइच ग्राहक सेवा केंद्र में तैनात बैंक मित्र बबलू ने फर्जी पासबुकों के जरिए ग्रामीणों के 14 लाख 36 हजार रुपये निकाल लिए हैं। फर्जीवाड़ा की आशंका होने पर ग्रामीणों ने उच्चाधिकारियों से मामले की शिकायत की। इस पर शाखा प्रबंधक विशाल गुप्ता ने बैंकमित्र के खिलाफ धोखाधड़ी सहित कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने बबलू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गुरुवार को ठगी का शिकार हुए निवाइच गांव के खाताधारक रामनरेश, पान कुमारी, भगुनिया ,बीना ,बल्दा प्रजापति, सुमित्रा,कौसीदेवी,अभिषेक, बलबीर, सहदेइया, लल्लू, राम देवी, स्वेता ,कविता ,मूलचंद्र, रामप्यारी, धर्मपाल , पूजा ,लक्ष्मी आदि खाताधारकों ने एसडीएम पैलानी लाल सिंह यादव ने एसडीएम कार्यालय में विरोध प्रदर्शन किया और उनके जमा रुपये वापस दिलाने की मांग की।

उधर, जिलाधिकारी की ओर से जांच के लिए सीडीओ वेद प्रकाश मौर्य की अध्यक्षता में गठित मुख्य कोषाधिकारी दिनेश बाबू, एसडीएम पैलानी लाल सिंह यादव, अग्रणी जिला प्रबंधक विनय कुमार पांडेय की टीम ने खाताधारकों के बयान दर्ज किए। खाताधारकों ने कहा कि खातों से 14 लाख 36 हजार रुपये बैंक मित्र बबलू ने धोखाधड़ी कर निकाले हैं। इसमें आर्यावर्त बैंक पपरेंदा शाखा प्रबंधक की मिलीभगत भी है। एसडीएम ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर जांच टीम ने खाताधारकों के बयान लिए हैं। जांच रिपोर्ट डीएम को सौंपी जाएगी। आर्यावर्त बैंक पपरेंदा के प्रबंधक विशाल गुप्ता ने जो रुपये निकले हैं, वह उनके कार्यकाल के नहीं हैं। ग्रामीणों का कहना है कि वर्तमान बैंक प्रबंधक के कार्यकाल में ही खाताधारकों के खातों से लाखों रुपये निकले हैं।

Edited By: Jagran