संसू., लखीसराय : जिले के चानन प्रखंड के मध्य विद्यालय लाखोचक की बाल संसद ने रविवार को भारत विभाजन विभीषिका दिवस के अवसर पर तिरंगा यात्रा निकाली। लाखोचक पहाड़ी पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा को फहराकर अखंड भारत दिवस मनाया। भारत विभाजन विभीषिका को स्मरण किया गया। बाल संसद की प्रधानमंत्री वर्षा कुमारी एवं शिक्षा मंत्री सह मीना मंत्री सुषमा कुमारी के नेतृत्व में मध्य विद्यालय लाखोचक परिसर से तिरंगा यात्रा निकालकर लाखोचक पहाड़ी पर संपन्न हुई। इसके बाद बाल संसद के संयोजक शिक्षक पीयूष कुमार झा ने पहाड़ी पर ध्वजारोहण किया। सामूहिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज को सलामी देकर राष्ट्रगान जन गण मन व राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम गाया। इस अवसर पर संस्कृत शिक्षक पीयूष कुमार झा ने कहा कि आज देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। इस आजादी के लिए हमारे महापुरुषों ने बलिदान दिए, जेल की यातनाएं सही, माताओं की गोद सूनी हो गई, बहनों की मांग सूनी हो गई तब जाकर 15 अगस्त 1947 को यह आजादी मिली। परंतु 14 अगस्त को पहले भारत बंटवारे एवं खूनी दंगों का सामना देश को करना पड़ा। बंटवारे के फलस्वरूप पाकिस्तान व बांग्लादेश (पूर्वी बंगाल) अलग देश के रूप में मानचित्र पर उपस्थित हुए। बंटवारे के समय हुए दंगों में लगभग 10 लाख लोग मारे गए तथा करोड़ों लोग बेघर हुए। उस विभीषिका के स्मरण मात्र से रोंगटे खड़े हो जाते हैं। प्रत्येक देशभक्त को यह संकल्प लेना चाहिए कि भारत पुन: जर्मनी की तरह अखंड जरूर होगा तथा देश परम वैभव की ओर अग्रसर होगा।

Edited By: Jagran