जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: अंकिता हत्याकांड के बाद राजाजी टाइगर रिजर्व के भीतर कुकरमुत्तों की तरह उग आए रिसार्ट और कैंप को लेकर आखिर प्रशासन ने नजरें टेढ़ी कर दी हैं। इसकी शुरुआत भी गंगा भोगपुर के वनन्तरा रिसोर्ट से ही हुई है। अंकिता हत्याकांड से जुड़े इस रिसार्ट को सील किए जाने के बाद प्रशासन ने रविवार को आसपास के अन्य रिसार्ट की भी जांच की। जिसमें पहले ही दिन गंगा भोगपुर में ही पांच रिसार्ट को प्रशासन की टीम ने सील कर दिया।

मुख्‍यमंत्री के निर्देश के बाद हरकत में आया प्रशासन

अंकिता हत्याकांड के सुर्खियों में आने के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अवैध रिसार्ट की जांच के निर्देश दिए हैं। इसके बाद सभी जनपदों में प्रशासन हरकत में आया है। प्रशासन ने जिम्मेदार विभागों के साथ जांच अभियान शुरू कर दिया है। अंकिता हत्याकांड से जुड़े वनन्तरा रिसार्ट को प्रशासन ने बीते रोज ही सील कर दिया था। जबकि रविवार को तहसील की टीम ने राजाजी टाइगर रिजर्व के गंगा भोगपुर क्षेत्र में कुछ रिसार्ट की जांच की। इस दौरान जितने भी रिसार्ट में टीम पहुंची वहां किसी के भी पास आवश्यक कागजात नहीं मिल पाए।

डाउन टाउन रिसार्ट को क‍िया पूरी तरह सील

तहसीलदार मनजीत सिंह गिल ने बताया कि तल्ला भोगपुर में वनन्तरा के पास स्थित डाउन टाउन रिसार्ट को पूरी तरह सील किया गया है। जबकि पीयाम्बी रिसार्ट के स्पा को तथा ऋषिकेश के एक कथित मिर्गी रोग विशेषज्ञ के नीरज फारेस्ट रिसार्ट के स्पा को सील किया गया है। क्षेत्र के दो अन्य रिसार्ट के स्पा को भी सील किया गया है। जांच के दौरान इन रिसार्ट में स्पा सेंटर संचालन की कोई अनुमति नहीं पाई गई।

अफसरों की लापरवाही से बाइक सवार चोटिल

स्मार्ट सिटी के सब्जबाग दिखा रहे सरकारी विभाग दून वासियों को सुरक्षित व सुविधाजनक सफर भी मुहैया नहीं करा पा रहे हैं। दून की ज्यादातर प्रमुख सड़कों का हाल बद से बद्तर हो चला है, लेकिन इन्हें दुरुस्त करने को जिम्मेदारों की आंख नहीं खुल रही है। खस्ताहाल सड़कें हादसों का सबब बन रही हैं। रायपुर रोड पर एक वाहन सवार अफसरों की लापरवाही के कारण दुर्घटनाग्रस्त हो गया। गड्ढे के कारण गिरकर बाइक सवार युवक को गंभीर चोटें आई हैं।

ज्यादातर सड़कें बुरी तरह क्षतिग्रस्त

दून की मुख्य सड़कों पर कहीं निर्माण कार्य तो कहीं घटिया गुणवत्ता के कारण विशालकाय गड्ढे बने हुए हैं। वर्षा काल में तो ज्यादातर सड़कें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। जिससे आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। रविवार को सौड़ा-सरोली निवासी दीपक रावत बाइक पर सवार होकर रायपुर चौक से बाजार की ओर से जा रहे थे। यहां माता मंदिर के पास सड़क पर बने गड्ढों के कारण उनकी बाइक अनियंत्रित हो गई और बाइक समेत सड़क पर गिर गए। जिससे उनके सिर और हाथों पर काफी चोट आ गई। उन्हें आसपास के लोग अस्पताल ले गए, जहां उनका उपचार किया जा रहा है। दुभार्ग्यपूर्ण है कि चंद रोज पहले ही मुख्य सचिव डा. एसएस संधु ने सड़कों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। जिस पर संबंधित विभागों ने जल्द गड्ढे भरने का दावा किया। लेकिन, शहर में सड़कों की सेहत में कोई सुधार नहीं है।

Ankita Murder Case : अंतिम संस्‍कार नहीं करने पर अड़े स्‍वजन, श्रीनगर में भारी जनाक्रोश, रखीं ये चार मांग

Edited By: Sumit Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट