जागरण संवाददाता, करनाल : पुलिस चौकी सेक्टर छह की टीम ने शातिर आरोपित को गिरफ्तार किया है। आरोपित ने सुनियोजित ढंग से किसी दूसरे व्यक्ति की बीमा पालिसी के लाखों रुपए हड़पकर धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दिया था। उसे अदालत में पेश करने के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। एक अन्य आरोपित की पुलिस तलाश कर रही है।

इस वारदात के संबंध में पिछले वर्ष दिसंबर में पुलिस चौकी में शिकायत पहुंची थी। आइसीआइसीआइ लाइफ इंश्योरेंस के एरिया मैनेजर जगमोहन मल्होत्रा ने बताया कि कपूरथला पंजाब के जगजीत सिंह ने 2013 में एक बीमा पालिसी कराई थी। यह 2018 तक पूरी हो गई। इसके बाद नियमानुसार कंपनी द्वारा जगजीत सिंह को 695318 रुपये देने थे। 2018 में कंपनी ने यह राशि जगजीत सिंह को चेक द्वारा डाक के माध्यम से पंजीकृत पते पर भेज दी। लेकिन चेक जगजीत सिंह के पास नहीं पहुंचा। कंपनी ने इसकी आंतरिक जांच की तो पता चला कि यह चेक करनाल के जगजीत सिंह नामक व्यक्ति के खाते में जमा हुआ, जो विकास नगर का रहने वाला था। कंपनी ने उससे संपर्क किया तो जगजीत ने राशि देने से मना कर दिया।

इसके बाद आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी से किसी दूसरे का चेक अपने खाते में लगवाकर रकम हड़पने के आरोप में थाना सेक्टर 32-33 में मामला दर्ज किया गया। मामले में पुलिस चौकी इंचार्ज एएसआई बलराज सिंह की अगुवाई में टीम ने आरोपित जगजीत सिंह विकास नगर हाल राजीव पुरम करनाल को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित ने बताया कि यह चेक उसे नगेंद्र शक्तिपुरम करनाल ने कुछ रुपयों का लालच देकर अपने खाते में जमा करने के लिए दिया था। फिलहाल फरार आरोपित नगेंद्र ने उसे केवल 25 हजार रुपये दिए थे और बाकी रुपये वह खुद निकलव कर ले गया। आरोपित जगजीत के कब्जे से चार हजार रुपये बरामद किए गए। उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। फरार आरोपित नगेन्द्र की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट