संवाद सूत्र, फिल्लौर : गढ़ा स्थित काजल महंत के डेरे से उसका चेला महंत व उसके साथी 56 तोले सोने के गहने, आधा किलो चांदी व पांच लाख रुपये की नकदी लेकर फरार हो गए। काजल ने पुलिस के पास तीनों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है।

काजल महंत ने बताया कि 12 साल पहले बिहार का रहने वाला हिजड़ा भावना उसके संपर्क में आया था। कुछ दिन उसके पास रूकने के बाद उसे अपना गुरु मान लिया और उसके डेरे में रहने लगा। चार साल पहले उसने डेरे में चोरी कर ली। तब उसने गलती मानते हुए चोरी का सामान लौटा दिया था। इसके बाद उसे डेरे निकाल दिया था। गत वर्ष उसके पिता का देहांत हो गया। भावना भी अफसोस करने उनके घर आ गई और उसे यकीन दिलवाया कि कभी कोई गलती नहीं करेगी। फिर डेरे में उनके साथ ही रहेगी। यकीन दिलवाने पर वह मान गई। सात महीने पहले वो यूपी के रहने वाले विशाल को भी उनके डेरे में ले आई। 20 दिन पहले एक किरण नामक हिजड़े को भी यह कहकर डेरे में ले आई थी कि वे सभी मिलकर लोगों के घर में बधाई मांगने जाया करेंगे। गत दिवस शाम छह बजे जब वह नहाने के लिए बाथरूम गई तो पीछे से भावना ने अपने दोनों हिजड़े साथियों के साथ मिलकर पहले डेरे में लगे सभी सीसीटीवी कैमरे बंद कर दिए। उसके बाद मुख्य अलमारी खोलकर 56 तोले सोने के गहने, आधा किलो चांदी और पांच लाख रुपये नकदी निकाल ली और फरार हो गए। वहीं, घटना का पता चलने के बाद महंत काजल की हालत खराब हो गई। उसे तुरंत इलाज के लिए डाक्टरों के पास ले जाया गया। यहां से वह पुलिस के पास गई और तीनों चेलों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। उसने पुलिस से मांग की तीनों आरोपितों को काबू कर उसका चोरी हुआ सामान दिलाया जाए।

Edited By: Jagran