नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। यूएस फेडरल रिजर्व की ब्याज दर के नतीजे से पहले बुधवार के इंट्रा-डे ट्रेड में घरेलू बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। प्रमुख सूचकांक निफ्टी 97 अंक गिरकर 17718 के स्तर से नीचे आ गया। एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स 262 अंक नीचे 59,456 पर था। लाभ और हानि के बीच झूलते हुए सभी क्षेत्रों में उतार-चढ़ाव भरा कारोबार हुआ।

निफ्टी एफएमसीजी एकमात्र ऐसा सूचकांक था जो 1 फीसदी से अधिक चढ़ा। निफ्टी बैंक, निफ्टी एनर्जी और निफ्टी रियल्टी सूचकांक कारोबार में पिछड़ गए।

बुधवार को पहले कारोबारी सत्र में बजार में सपाट कारोबार हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सूचकांक 19 अंक नीचे गिरकर 59699 पर कारोबार कर रहा था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 11 अंक नीचे गिरकर 17808 पर था। लेकिन बाद में बाजार में मंदड़िए हावी हो गए और बाजार में गिरावट आने लगी।

आज कैसा रहा कारोबार

बेंचमार्क सूचकांकों ने दो दिन की तेजी को आज विराम दे दिया। आज ज्यादातर निवेशकों की निगाहें फेड मीट के नतीजों पर हैं। सेक्टर्स की बात करें तो एफएमसीजी सूचकांक में 1 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि पूंजीगत सामान, तेल और गैस, रियल्टी और बिजली सूचकांकों में 1-2 प्रतिशत की गिरावट आई। आज इंट्रा डे ट्रेड में लगभग 1251 शेयरों में तेजी आई, 2115 शेयरों में गिरावट आई और 117 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

टॉप गेनर्स और लूजर्स

श्री सीमेंट्स, अदानी पोर्ट्स, इंडसइंड बैंक, पावर ग्रिड कॉर्प और अल्ट्राटेक सीमेंट आज निफ्टी में अच्छा कारोबार कर रहे थे। जबकि ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज, आईटीसी, एचयूएल, अपोलो हॉस्पिटल्स और कोल इंडिया के शेयर टूट गए। स्पाइसजेट के शेयरों में 4 फीसदी की गिरावट आई, क्योंकि एयरलाइन ऑपरेटर ने लागत को तर्कसंगत बनाने के लिए 80 पायलटों को बिना वेतन के तीन महीने के लिए छुट्टी पर भेज दिया है।

कमजोर हुआ रुपया

भारतीय रुपया बुधवार को 79.75 के पिछले बंद के मुकाबले 22 पैसे कम 79.97 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

Edited By: Siddharth Priyadarshi