नई दिल्ली, जेएनएन। गूगल इंडिया ने बुधवार को छोटे-मझोले कारोबारियों के सहयोग और सराहना के लिए देशव्यापी अभियान 'मेक स्मॉल स्ट्रॉन्ग' लॉन्च किया। इस अभियान का मकसद उन कारोबारियों की मदद करना है, जिन्होंने इस चुनौतीपूर्ण माहौल में बेहतर करने की भरसक कोशिश की। वहीं, ग्राहकों को प्रेरित करने, उन्हें विश्वास और सुरक्षा प्रदान करने के लिए डिजिटल माध्यमों को अपनाया। इस अभियान के जरिये गूगल सर्च और मैप में छोटे और मझोले कारोबारियों को तलाशने के तरीके को और भी बेहतर बनाया जाएगा। इससे ग्राहक उन्हें आसानी से सर्च कर सकेंगे। इस अभियान को टेक, ऑनलाइन डिलिवरी, फूड डिलिवरी समेत विभिन्न तरह की कंपनियों और मीडिया के सहयोग के साथ शुरू किया गया है।  

इस अभियान को शुरू करने का फीडबैक जुलाई में आई गूगल-कंतार की रिपोर्ट से आया था। इस रिपोर्ट के अनुसार 92 फीसदी कारोबारी ग्राहकों की कमी से जुड़ी चुनौतियों का सामना कर रहे थे। इसके अलावा राजस्व में कमी, कीमतों में उतार-चढ़ाव जैसे मुद्दों से भी कारोबारी परेशान थे। इस रिपोर्ट से पता चला कि कारोबारी की धारणा थी कि डिजिटल माध्यमों का इस्तेमाल करने पर उन्हें फायदा होगा। यह धारणा सच साबित हुई। आज 10 में से 5 कारोबारी डिजिटल चैनल का प्रयोग कर रहे हैं जबकि अप्रैल में सिर्फ 10 में से 4 कारोबारी ही ऐसा करते थे।

गूगल इंडिया की कस्टमर सॉल्यूशंस डायरेक्टर शालिनी गिरीश का कहना है कि डिजिटल मौजूदा समय की जरूरत है। हम छोटे मध्यम कारोबारियों के डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन की यात्रा में हरसंभव मदद करना चाहते हैं। इसी को मद्देनजर रखते हुए हमने 'मेक स्मॉल स्ट्रॉन्ग' अभियान लॉन्च किया। इस अभियान के माध्यम से लोग अपने आस-पड़ोस के कारोबारियों के बारे में गूगल में रेटिंग दे सकते हैं, उनकी समीक्षा कर सकते हैं, उनके कारोबार को प्रमोट कर सकते हैं। साथ ही उनसे खरीददारी को भी बढ़ावा दे सकते हैं।

बीते जुलाई माह में गूगल ने ग्रो विद गूगल स्मॉल बिजनेस हब लॉन्च किया था, जिसका उद्देश्य व्यापारियों को सारे डिजिटल टूल्स एक प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराना था। 

(न्‍यूज रिपोर्ट: अनुराग मिश्रा, जागरण न्‍यू मीडिया)