जागरण संवाददाता, गाजियाबाद। ग्राहकों की संतुष्टि और मधुर व्यवहार, किसी भी कारोबार की जान होते हैं। जिसने भी इन दो बातों को ध्यान में रख काम किया उसे सफलता मिलनी तय है। सैलून-पार्लर का कारोबार करने वाले गोगिया बंधुओं की सफलता का भी यही राज है। ग्राहकों को बेहतर सर्विस देकर वे लगातार आगे बढ़ते रहे हैं। कोरोना काल में भी सुरक्षा का ध्यान रख उन्होंने ग्राहकों की संतुष्टि के स्तर को और आगे ही बढ़ाया है, जिसका नतीजा कारोबार की बेहतरी के रूप में सामने आया। 

यूं बढ़ता गया कारोबार

सुधीर गोगिया के फरीदाबाद व बेंगलुरु में सैलून हैं। उन्होंने अपने छोटे भाई राकेश गोगिया से भी इस कारोबार को शुरू करने की सलाह दी। बड़े भाई की सलाह पर उन्होंने शहर के पॉश इलाके सेक्टर 14 राजनगर में ब्वॉयज टू मैन के नाम से मैन्स सैलून स्टूडियो खोला, जिसे सात कारीगरों के साथ शुरू किया गया। ग्राहकों की संतुष्टि और मधुर व्यवहार के साथ शुरू किए सैलून में काफी लोग काम कराने के लिए आने लगे। आगे चलकर राजनगर, कविनगर, नेहरूनगर, इंदिरापुरम तक कारोबार का विस्तार किया गया। उनकी मेहनत से सैलून का कारोबार यहीं तक सीमित नहीं रहकर देहरादून तक पहुंचा। आज उनके पास 7 सैलून हैं। आइए, जानते हैं उनके कारोबार विस्तार और कोरोना से पैदा हुए संकट को दूर करने के लिए अपनाए गए उपायों की कहानी...

समाधान 1: कोरोना से सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखा

सैलून-पार्लर के काम ही ऐसा था, जिसे कोरोना काल में सशंकित नजरों से देखा गया। ऐसे में कारोबार पर असर नहीं पड़े इसको लेकर उपाय किए गए। कोरोना काल में ग्राहकों की सुरक्षा के लिए सैनिटाजेशन का खास ख्याल रखा गया। 

(ब्वॉयज टू मैन सैलून के राकेश गोगिया)

समाधान 2: 10 हजार से अधिक ग्राहकों के नेटवर्क की सुविधा का रखा ख्याल

सैलून संचालकों की समस्याओं के लिए गाजियाबाद में रजिस्टर्ड एसोसिएशन बनाई गई है। अभी राकेश गोगिया ही सैलून एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं। वह समय-समय पर सामने आने वाली समस्याओं का टीम के साथ मिलकर निदान कराते हैं। उनके पास अभी देहरादून को छोड़कर गाजियाबाद के छह सैलून पार्लर में 10 हजार से अधिक ग्राहक जुड़े हैं। इतने बड़े ग्राहकों के नेटवर्क में हर ग्राहक की सुविधा और संतुष्टि का खास ख्याल रखा जाता है। 

समाधान 3: सही दाम, प्रशिक्षित कारीगरों का मिलता है फायदा

हमने अपने सात सैलून में काम के प्रति ग्राहकों की संतुष्टि को सर्वोपरि रखा। सही दाम व सही काम के अलावा व्यवहार को बिगड़ने नहीं दिया। यह कारोबार सात कारीगरों के साथ मिलकर शुरू किया था, जिनमें आज 100 से ज्यादा प्रशिक्षित कारीगर कार्य करते हैं।

समाधान 4: सभी पार्लर पर प्रोफेशनल रिटेल स्टोर

संकट हो या सामान्य स्थिति हो, किसी भी कारोबार की जान इनोवेशन होता है। राकेश गोगिया बताते हैं कि गाजियाबाद में पहली बार पार्लर पर प्रोफेशनल रिटेल स्टोर शुरू किए हैं। यहां विभिन्न ब्रांड के प्रोफेशनल होम केयर रिटेल आउटलेट सभी पार्लर पर खोले गए हैं। यहां ग्राहकों को मल्टी ब्रांड प्रोडक्ट असली भरोसे के साथ सही दाम पर मिलते हैं। यहां सुबह नौ से रात नौ बजे तक ग्राहकों को सर्विस दी जाती है।