मुंबई, पीटीआइ। महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) लॉकडाउन (Lockdown) को लेकर उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Ajit Pawar) के साथ महत्‍वपूर्ण बैठक करेंगे। इस बैठक में राज्‍य के लॉकडाउन से प्रभावित होने वाले लोगों के लिए एक वित्‍तीय पैकेज तैयार करने को लेकर चर्चा की जाएगी। इसके बाद ही लॉकडाउन को लागू करने और उसकी अवधि को लेकर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।रविवार को हुई टास्क फोर्स की बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 8 दिनों का लॉकडाउन लगाने जबकि टास्क फोर्स के कुछ सदस्य 14 दिनों के सख्त लॉकडाउन के पक्ष में थे। वहीं शिवसेना के मुखपत्र सामना में भी 14 दिन का लॉकडाउन लगाने की ही वकालत की गई है।

कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों को देखते हुए शनिवार को ही राज्‍य में सख्‍त लॉकडाउन की ओर इशारा किया जा रहा था। राज्‍य में कोरोना की स्थिति दिन प्रतिदिन भयावह होती जा रही है जिसे लेकर बीते सप्‍ताह कुछ पाबंदियां भी लगायी गई थी। भले ही अभी तक पूरी राज्‍य में लॉकडाउन न लगा हो लेकिन संवेदनशील स्‍थानों पर सप्ताहांत पर लॉकडाउन, रात्रि कर्फ्यू और कई तरह की पाबंदियां लागू की जा चुकी है। ये पाबंदियां 30 अप्रैल तक के लिए लगायी गई हैं।  

लॉकडाउन को लेकर राजेश टोपे ने कही ये बात

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने रविवार को कहा था कि राज्‍य में लॉकडाउन को लेकर उचित निर्णय 14 अप्रैल के बाद लिया जाएगा। बता दें कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुई टास्क फोर्स की डिजिटल बैठक में राज्‍य में लॉकडाउन लागू करने को लेकर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई थी। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टोपे ने बताया कि इस बैठक में लॉकडाउन की अवधि और इससे होने वाली आर्थिक गिरावट से कैसे निपटना है इसे लेकर खास चर्चा की गई। टास्‍क फोर्स का मानना है कि राज्‍य में कोरोना संक्रमण के हालात ठीक नहीं है ऐसे में लॉकडाउन लगाना अति आवश्‍यक है।  

 महाराष्ट्र में 63294 नए मामले

 महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के  63294 नए मामले दर्ज किए गए हैं और  349 संक्रमितों की मौत हो गई। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के आंकड़ों के अनुसार रविवार को राज्‍य में  34008 मरीजों के स्‍वस्‍थ होने की खबर है। वहीं मुंबई में 9989 नए मामले सामने आए और 58 संक्रमितों की जान चली गई।  राज्‍य  में अब तक कुल संक्रमितों की संख्‍या  34,07,245 तक पहुंच चुकी है और अब तक कुल  27,82,161 मरीज इस महामारी के बाद स्‍वस्‍थ हो चुके हैं।  इस भयावह महामारी के कारण अब तक कुल 57,987 लोगों की जान जा चुकी है। राज्‍य में सक्रिय मरीजों की संख्‍या  5,65,587 तक पहुंच चुकी है।    

Edited By: Babita Kashyap