मुंबई, एएनआइ। गुजरात से पहले महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में चक्रवात वायु का असर देखने को मिल रहा है।  मुंबई एयरपोर्ट पर खराब मौसम की वजह से विमान 20 मिनट की देरी से उड़ान भर रहे हैं।

इस बीच, तेज हवाओं और बारिश के कारण चर्चगेट नए स्टेशन की इमारत के पूर्वी किनारे पर अल्युमीनियम क्लैडिंग पैनल के गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हो गए। 

मुंबई में बुधवार सुबह तेज हवाओं के कारण एक पेड़ उखड़ गया। पेड़ के नीचे एक बाइक आ गई। वहीं, मुंबई मौसम विभाग के डेप्युटी डायरेक्टर जनरल ने कहा है कि चक्रवात की वजह से उत्तर महाराष्ट्र के तट पर में तेज हवाएं चलेंगी। 

मौसम विभाग के मुताबिक, यह तूफान मुंबई से महज 280 किमी दूर है। प्रदेश के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चल रही हैं, जिनसे कई स्थानों पर पेड़ उखड़ गए हैं। हालांकि चक्रवाती तूफान वायु पर क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र, मुंबई के प्रभारी निदेशक बिशमोम्बर सिंह कहा कि इसका मुंबई पर अधिक प्रभाव नहीं है। शहर में शायद हल्की बारिश होगी और हवा की गति थोड़ी बढ़ सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार की सुबह गुजरात तट से टकराने के बाद चक्रवाती तूफान महाराष्ट्र और कर्नाटक की तरफ बढ़ेगा। तट से टकराने के बाद इसकी रफ्तार धीरे-धीरे कम होती जाएगी। उत्तरी महाराष्ट्र के तटवर्ती क्षेत्रों में इसकी रफ्तार 50-60 किलोमीटर प्रतिघंटे हो सकती है, जो अधिकतम 75 किलोमीटर प्रतिघंटे तक जा सकती है। इसके प्रभाव से महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में बारिश हो सकती है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra