मुंबई, अनुज अलंकार। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने रविवार को आह्वान किया कि भारतीय मनोरंजन जगत अपनी सशक्त पहचान बनाए और अपने कारोबार के लिए किसी और तंत्र पर निर्भर न रहे। मुंबई में फिक्की फ्रेम-2018 के सालाना आयोजन का उद्घाटन करते हुए स्मृति ईरानी ने इस बात पर जोर दिया कि मनोरंजन और मीडिया इंडस्ट्री उपभोक्ताओं की जरूरतों और आकांक्षाओं पर खरा उतरने के लिए सक्रिय भागेदारी करें। फिल्मकार करण जौहर के साथ सवाल-जवाब के एक सत्र में स्मृति ईरानी ने कहा कि हमारी मनोरंजन की इंडस्ट्री को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाना जरूरी है ताकि इसके विकास की बाधाएं दूर हो सकें।

ईरानी ने भारत में विदेशी फिल्मकारों द्वारा शूटिंग के लिए माहौल बनाने की जरूरत का उल्लेख करते हुए कहा कि हमें इस बात को सुनिश्चित करना जरूरी है कि देश-विदेश के फिल्मकारों को भारत में कहीं भी शूटिंग करने में कोई बाधा नहीं आए। उन्होंने कहा कि इस  संदर्भ में बेहतर व्यवस्थाओं के लिए सरकार ने एक समिति का गठन किया है जो दो महीनों में अपनी रिपोर्ट दे देगी। उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार मनोरंजन की दुनिया को प्रभावशाली बनाने के लिए हरसंभव मदद देने के लिए प्रतिबद्ध है।

झेंप गए करण जौहर 

करण जौहर ने जब फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के सॉफ्ट टारगेट बनने का जिक्र किया तो ईरानी ने पलटकर सवाल किया कि ऐसे मामलों में खुद को भी जांचने की जरूरत है कि ऐसा क्यों होता है। करण जौहर इस जवाब पर झेंप गए और उन्होंने इस मुद्दे को टाल दिया।

ज्यादा परिपक्व हों कहानियां 

इससे पूर्व उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए स्टार नेटवर्क के प्रबंध निदेशक संजय गुप्ता ने इस बात पर जोर दिया कि हमें अपनी कहानियों को ज्यादा परिपक्व बनाने की जरूरत है। फिल्मकार और गिल्ड केप्रमुख सिद्धार्थ राय कपूर ने फिल्म निर्माण में सरकारी बाधाओं से लेकर देश में कम सिनेमाघरों के होने और साथ में चीन का उल्लेख किया, जहां हिंदी फिल्मों को अच्छा कारोबार मिल रहा है। सिद्धार्थ राय कपूर ने कहा कि भारतीय सिनेमा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना रहा है। 

इस मौके पर फिक्की की ओर से 2017-18 की रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें बताया गया कि भारतीय सिनेमा का कारोबार 1.33 लाख करोड़ सलाना तक पहुंच चुका है। उद्घाटन समारोह में सेंसर बोर्ड के चेयरमैन प्रसून जोशी और अभिनेत्री हुमा कुरैशी भी शामिल हुए। 2000 भारतीय और 800 विदेशी प्रतिनिधिमंडल लेंगे हिस्सा चार दिनों तक चलने वाले इस 'फिक्की फ्रेम' में कंटेट मार्केट सहित कई आयोजन होंगे। उम्मीद है कि इस आयोजन में भारत से 2000 और विदेश से 800 प्रतिनिधिमंडल हिस्सा लेंगे और मनोरंजन व मीडिया इंडस्ट्री के वर्तमान और भविष्य को लेकर विभिन्न सत्र होंगे।

फडऩवीस आज करेंगे संबोधित

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस सोमवार को मनोरंजन क्षेत्र की अग्रणी कंपनियों के सीईओ के साथ एक सत्र को संबोधित करेंगे। महिला दिवस के लिए होने वाले सत्र में नंदिता दास सहित कई महिला हस्तियां हिस्सा लेंगी।

By Babita