मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

राज्य ब्यूरो, पुणे, मुंबई। बाल दिवस 14 नवंबर के अवसर पर गूगल के होम पेज पर पुणे की बालिका अन्विता का बनाया डूडल छाया रहा। अन्विता इस उपलब्धि से अभिभूत हैं।
गूगल के होम पेज पर सर्च इंजिन के ठीक ऊपर बना चित्र रोज बदलता रहता है। अक्सर यह चित्र उस दिन की विशेषता दर्शानेवाला होता है। इसी को गूगल डूडल के नाम से जानते हैं। सोमवार को बाल दिवस के अवसर पर प्रकाशित यही गूगल डूडल पुणे की अन्विता प्रशांत तेलंग का बनाया हुआ है।

अन्विता पुणे के विबग्योर हाईस्कूल में कक्षा छह की छात्रा हैं। ‘डूडल 4 गूगल’ प्रतियोगिता के लिए उनकी रचना का चयन होने की जानकारी उन्हें विगत शुक्रवार को ही हो गई थी। अन्विता का कहना है कि आज सुबह से मेरे पास दोस्तों के फोन आ रहे हैं। सब मुझसे पार्टी मांग रहे हैं। मैं बहुत खुश हूं।
गूगल इंडिया की विपणन प्रमुख सपना चड्ढा कहती हैं कि ‘डूडल 4 गूगल’ प्रतियोगिता के जरिए हम लोगों में कलात्मकता एवं कल्पनाशीलता को बढ़ावा देने की कोशिश करते हैं। इस साल की विजेता बनने के लिए हम अन्विता को बधाई देते हैं।

इस प्रतियोगिता के लिए देश के 50 शहरों से प्रविष्टियां प्राप्त हुई थीं। इस वर्ष प्रतियोगिता की थीम थी – यदि हम किसी को कोई चीज सिखा सकते हैं, तो यह करके रहेंगे। गूगल द्वारा यह प्रतियोगिता 2009 से चलाई जा रही है।

पढ़ें:सास ने पलटा करीना कपूर का फ़ैसला? विदेश में नहीं यहां होगी डिलीवरी!

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप