मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पुणे, जेएनएन। शहर से सटे तलेगांव-चाकण मार्ग पर बनी एक कॉटन फैक्ट्री के गोदाम में गुरूवार सुबह 10 बजे भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आने से गोदाम में मौजूद 5 लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में 4 महिलाएं शामिल हैं।

दमकल विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, सना इंटरप्राइजेस कंपनी के कॉटन गोदाम में यह आग लगी है। आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं लगा है, फायर ब्रिगेड के मुताबिक आग शायद शार्ट सर्किट की वजह से लगी होगी। इस दुर्घटना में आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, घायलों को पास के सरकारी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है।

मरने वालों में कल्पना सिरसाठ (29), राधा ठाकुर (26), उज्ज्वला सोनाले (35) कुसुम साखरकर(30) और रामदास राठौड़ (52) शामिल हैं। ये सभी हादसे के वक्त गोदाम में काम कर रहे थे।

सभी के शवों पोस्टमार्टम के लिए चाकण स्थित सरकारी हॉस्पिटल ले जाया गया है। आग से निकला धुआं पूरे इलाके में फैल गया है। स्थानीय लोगों ने सांस लेने में तकलीफ की शिकायत की है। भीड़भाड़ वाला इलाका होने के कारण गोदाम के बाहर हजारों लोगों की भीड़ जमा हो गई है।

4 घंटे बाद भी बेकाबू है आग

गोदाम में भारी मात्रा में कपास रखा हुआ था, इस कारण तकरीबन 4 घंटे बाद भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। मौके पर डॉक्टर की एक टीम और दो एम्बुलेंस मौजूद हैं। जिस वक्त यह दुर्घटना हुई, उस समय गोदाम में 20 से ज्यादा लोग मौजूद थे।

इसलिए माना जा रहा है कि मरने या घायल होने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है। इस आग से लाखों का कपास जलकर खाक हो गया है।

पढ़ें- पीटर मुखर्जी को थी शीना बोरा की हत्या की जानकारी

Posted By: Abhishek Pratap Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप