मुंबई, एएनआइ। देश में कोरोना संक्रमण के अब तक सबसे ज्‍यादा मामले महाराष्ट्र में ही सामने आये हैं। मुंबई के दादर में सुश्रुषा अस्पताल की सभी नर्सों को अस्पताल में ही क्‍वारंटाइन में रखा गया है। क्‍वारंटाइन में रखी गयी सभी नर्सो का परीक्षण करने के लिए कहा गया है। बीएमसी ने कहा है कि परीक्षण का परिणाम आने के बाद इन नर्सो को अलग अस्‍पताल में शिफ़ट किया जाएगा। दरअसल इस अस्‍पताल की दो नर्स कोरोना संक्रमित पायी गयी हैं। बीएमसी ने कहा है कि वह किसी भी नये मरीज को अस्‍पताल में भर्ती न करें और  और 48 घंटे में सभी भर्ती मरीजों को छुट्टी दे दे।  

मुंबई के दादर इलाके में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 16 नये मामले सामने आये हैं। सुश्रुषा अस्पताल की दो नर्स और केलकर रोड निवासी एक व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। दादर में अब कोरोना संक्रमितों की संख्‍या छह हो गयी है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में1380 लोग इस बीमारी से संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से 98 की मौत हो चुकी है। 

कोरोना संक्रमण को लेकर देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की स्थिति काफी गंभीर है सबसे अधिक चिंता की बात यहां के स्‍लम एरिया धारावी से सामने आ रहे मामलों की है य हां इसके तेजी से फैलने की संभावना है बीते वीरवार का मुंबई से एक दिन में 79 मामले व महाराष्ट्र में 229 नये मामले सामने आये थे। राज्‍य में अब तक कोरोना संक्रमण के कारण 81 लोगों की मौत हो चुकी है।  

मुंबई के स्‍लम एरिया धारावी व वरली कोलीवाड़ा समेत 215 इलाकों को  रेड जोन घोषित किया जा चुका है। इन इलाकों में घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। संदिग्‍ध के मिलने पर उसे टेस्टिंग के लिये भेजा जा रहा है। महाराष्ट्र में मरीजों की संख्या बढ़कर 1,346 व मुंबई में 775 (54 मृतकों को मिलाकर) बतायी गयी है। धारावी में तीन लोग इस संक्रमण से मर चुके हैं। धारावी एवं वरली कोलीवाड़ा सहित मुंबई के कई स्‍लम एरिया में एक-एक कमरे में पांच से दस लोग रहते हैं ऐसे में ये लोग सार्वजनिक शौचालयों का प्रयोग करते हैं जिससे संक्रामक रोग का खतरा और अधिक हो जाता है।

इस स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने सघन जांच अभियान चलाये हैं। धारावी के करीब राजीव गांधी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स एवं वरली के एनएसई ग्राउंड में आइसोलेशन वार्ड बनाकर वहां संदिग्‍धों को रखा जा रहा है। 215 रेड जोन में जांच अभियान चलाने के लिए बीएमसी ने 10 टीमों का गठन किया है, इस टीम के सदस्‍य घर घर जाकर लोगों की स्‍क्रीनिंग कर रहे हैं। बता दें की मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि जांच का दायरा बढ़ाकर रोगियों की पहचान बेहतर  तरीके से की जा सकती है। 

 Coronavirus In Gujarat: पिछले 24 घंटे में 67 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि, 308 संक्रमित

महाराष्ट्र गृह विभाग ने दिया मुंबई-पुणे की पांच जेलों को बंद करने का आदेश

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस