मुंबई, एएनआइ। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच के लिए रविवार को यहां पहुंचे पटना के पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी के लिए क्‍वारंटाइन के नियमों में छूट की बिहार पुलिस की मांग के जवाब में उन्हें डिजिटल तरीकों से बातचीत करने का सुझाव दिया था। बीएमसी ने वीरवार को एक पत्र लिखकर  बिहार पुलिस से कहा कि  पूछताछ के लिए जूम, गूगल मीट, जियो मीट, माइक्रोसॉफ्ट टीम्स या अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म का प्रयोग किया जाए। 

बिहार पुलिस ने इससे पहले तीन अगस्त को पत्र लिखकर विनय तिवारी के लिए क्‍वारंटाइन के नियमों में ढील की मांग की थी। सुशांत की मौत के मामले में जांच कर रहे बिहार पुलिस के दल की अगुवाई करने रविवार को यहां पहुंचे विनय तिवारी को बीएमसी ने 14 दिन के लिए क्‍वारंटाइन में भेज दिया था।

बिहार पुलिस के पत्र के जवाब में बीएमसी के अतिरिक्त निगम आयुक्त पी वेलरासू के हस्ताक्षर वाले पत्र में कहा गया, ‘‘डिजिटल प्लेटफॉर्म के प्रयोग से न तो तिवारी उन अधिकारियों को संक्रमण फैला सकेंगे जिनसे वह मिल रहे हैं (यदि वह बिहार से संक्रमित होकर आये होंगे तो) क्योंकि बिहार में कोरोना वायरस महामारी तेजी से फैल रहा है और वह खुद भी मुंबई में महाराष्ट्र सरकार के अनेक अधिकारियों से मुलाकात के दौरान संक्रमित होने से बच जाएंगे। बीएमसी ने कहा कि तिवारी को महाराष्ट्र सरकार के सभी नियम और शर्तों का पालन करना चाहिए।

Mumbai Rain Live Update: मुंबई के मरीन ड्राइव पर High tide, समुद्र में उठने लगी ऊंची लहरें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस