मुंबई, मिड डे। शीना बोरा हत्या मामले में गवाह बने आरोपी श्यामवर राय ने जिरह के दौरान अदालत से कहा कि वह जानता है कि यदि किसी ने हत्या जैसा अपराध किया है तो उसे सजा मिलेगी। इस मामले में संजीव खन्ना के वकील निरंजन मुंडेरजी ने सोमवार को राय से जिरह शुरू की। इंद्राणी मुखर्जी के वकील सुदीप पासबोला शुक्रवार को जिरह पूरी कर चुके हैं।

 

मुंडेरजी ने राय से पूछा कि क्या वह जानते हैं कि हत्या की सजा अवैध हथियार लेकर चलने से ज्यादा है? इसके जवाब में राय ने कहा कि वह इससे अनभिज्ञ है। मुंडेरजी ने दूसरा सवाल किया, 'किसी का खून किया तो सजा मिलती है यह आपको पता था?' इसके जवाब में राय ने कहा, 'खून किया तो सजा मिलेगी।'

 

अदालत में इससे पहले राय ने बयान दिया था कि कार्टर रोड जाने के लिए उसने सांताक्रूज फुटओवर ब्रिज पार किया था। वह पिस्टल फेंकना चाहता था। यह पिस्टल उसे इंद्राणी से पार्सल में मिला था। उसने आगे कहा कि पुलिस को देखने के बाद उसने बैग को नहीं फेंका और तेजी से चलने लगा।

 

इसी दावे के आधार पर मुंडेरजी ने राय से सवाल पूछना शुरू किया। पुल पार करते समय तीन जगहों पर पुलिस मौजूद थी। मुंडेरजी ने कहा कि रेलवे स्टेशन पर गोलिबार मैदान में जहां पुल है वहां और बाहर के विहार होटल के पास पुलिस मौजूद थी। राय ने कहा कि उसने कहीं पुलिस पर ध्यान नहीं दिया।

 

यह भी पढ़ें: मुंबई बम धमाके के दोषी मर्चेंट की फांसी पर रोक

 

Posted By: Babita Kashyap