मुंबई, एएनआई। MPSC: महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग (एमपीएससी) के परीक्षार्थियों ने वीरवार को पुणे में प्रदर्शन किया। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर एमपीएससी के परीक्षार्थियों की 14 मार्च को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई है। इसके विरोध में प्रदर्शन किया गया। इस बीच, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह छात्रों की भावनाओं के साथ खेलना नहीं चाहते, लेकिन अपने स्वास्थ्य के साथ भी खेलना नहीं चाहते। यह अतिरिक्त समय जो मैं चाह रहा हूं वह केवल स्टाफ और अन्य आवश्यक चीजों की बेहतर तैयारी के लिए है। मैं छात्रों और अभिभावकों से अपील करता हूं कि वे किसी भी राजनीतिक बंदूक के लिए कंधे से कंधा न दें।

उद्धव ने कहा कि परीक्षा ड्यूटी में लगे लोगों को कोरोना के लिए नकारात्मक परीक्षण करना होगा। बेहतर होगा कि परीक्षा ड्यूटी में लगे लोगों को पहले टीका लगाया जाए। किसी को अपने मन में कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि परीक्षार्थी स्वयं संक्रमित हैं। हम शुक्रवार तक नई तारीख घोषित करेंगे। उनके मुताबिक, पिछली बार जब यह परीक्षा स्थगित कर दी गई थी, तो मैंने आश्वासन दिया था कि अगली तारीख घोषित होने पर इसे और स्थगित नहीं किया जाएगा। वीरवार को यह कोरोना के कारण स्थगित कर दी गई है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि स्थगन दो-तीन महीने नहीं बल्कि कुछ दिनों के लिए है। परीक्षा एक सप्ताह में होगी।

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 14,317 नए मामले सामने आए। 7,193 लोग डिस्चार्ज हुए और 57 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई। कुल मामले 22,66,374 हो गए हैं। ़कुल डिस्चार्ज 21,06,400 हैं। कोरोना से अब तक 52667 की मौत हो चुकी है। प्रदेश में सक्रिय मामले 106070 हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बुधवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 17921 नए मामले सामने आए और 133 लोगों की मौत हुई, जिनमें सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 56, पंजाब में 20 और केरल में 16 मौतें शामिल हैं। इनको मिलाकर अब तक संक्रमितों का कुल आंकड़ा एक करोड़ 12 लाख 62 हजार से ज्यादा हो गया है। इनमें से एक करोड़ नौ लाख 20 हजार से ज्यादा लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और 1,58,063 लोगों की मौत भी हो चुकी है। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra