मुंबई, एजेंसी। Uddhav Thackeray: शुक्रवार को देवेंद्र फडणवीस के सीएम पद से इस्‍तीफे के बाद हुई प्रेस कांफ्रेंस के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने करारा हमला बोला। उन्‍होंने फडणवीस के एक-एक आरोपों का जवाब दिया। इससे लगता है कि भाजपा और शिवसेना एक दूसरे के खिलाफ खुलकर आ गए हैं।  

शाह से सीएम पद के लिए स्‍पष्‍ट बात की

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने हमला बोलते हुए कहा कि पांच साल के कार्यकाल के लिए फडणवीस ने खुद को श्रेय दिया। मैं बाला साहेब की तरह सच के साथ खड़ा रहा। शिवसैनिक अपनी बात से कभी पीछे नहीं हटता। हम जो कहते हैं वो निभाते हैं। शि‍वसेना झूठ बोलने वाली पार्टी नहीं है। मुझसे बात करने के लिए अमित शाह मुंबई आए थे। मैंने अमित शाह से सीएम पद के लिए स्‍पष्‍ट बात की थी। चुनाव से पहले भाजपा ने मीठी मीठी बातें की। फडणवीस मुझ पर झूठ बोलने का आरोप लगा रहे हैं।  फडणवीस से ऐसे आरोपों की उम्‍मीद नहीं थी।

पीएम मोदी पर कभी व्‍यक्तिगत आरोप नहीं लगाए

उन्‍होंने कहा कि भाजपा झूठ बोलना बंद करे। फडणवीस मेरे अच्‍छे दोस्‍त हैं, मैंने बढ़कर उनकी मदद की। हमने अटल, आडवाणी, पीएम मोदी पर कभी व्‍यक्तिगत आरोप नहीं लगाए। । हमने नीतियों की आलोचना की। उन्‍होंने पूछा कि नोटबंदी के 50 दिन के वादे के बारे में किसने कहा था। अच्‍छे दिन का झूठ किसने बोला। उन्‍होंने कहा कि भाजपा भूल गई कि उन्‍होंने दुष्‍यंत चौटाला के लिए क्‍या कहा था। बाद में हरियाणा में भाजपा ने दुष्‍यंत चौटाला के साथ सरकार बनाई।  मैंने दुष्‍यंत चौटाला जैसी भाषा कभी नहीं बोली।

मैंने बातचीत के रास्‍ते कभी बंद नहीं किए

उन्‍होंने कहा कि फडणवीस ने बिना बहुमत के कैसे कह दिया कि हम सरकार बनाएंगे। हम भाजपा से सरकार बनाना सीखेंगे,  झूठ बोलना नहीं। मैंने एनसीपी और कांग्रेस से कोई बातचीत नहीं की।  मैंने बातचीत के रास्‍ते कभी बंद नहीं किए। उन्होंने (भाजपा) हमसे झूठ बोला इसलिए हमने उनसे बात नहीं की। जो मुझे झूठा कहेगा, मैं उससे रिश्‍ता नहीं रखूंगा। उन्‍होंने पूछा कि क्‍या कर्नाटक, मणिपुर की तरह महाराष्‍ट्र में भी सरकार बनाएंगे। 

एक दिन शिवसेना का होगा मुख्यमंत्री

उन्‍होंने कहा कि मैंने बालासाहेब से वादा किया था कि एक दिन शिवसेना के मुख्यमंत्री होगा। मैं उस वादे को पूरा करूंगा, इसके लिए मुझे अमित शाह और देवेंद्र फड़नवीस की जरूरत नहीं है। उन्‍होंने कहा कि यह बहुत दुखद है कि गंगा की सफाई करते समय उनके दिमाग प्रदूषित हो गए। मुझे बुरा लगा कि हमने गलत लोगों के साथ गठबंधन में प्रवेश किया।  शिवसेना का कहना है कि महाराष्‍ट्र में सीएम पद के लिए 2.5-2.5 साल के कार्यकाल पर ही बातचीत करेंगे। 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप