मुंबई, एजेंसी। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को आरोप लगाया कि मुंबई पुलिस के पूर्व प्रमुख संजय पांडे को उन्हें गिरफ्तार करने का ‘आदेश’ दिया गया था। पुलिस अधिकारी इसमें सफल नहीं हो सके, क्योंकि उन्होंने कोई गलत काम नहीं किया है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता फडणवीस ने एक क्षेत्रीय समाचार चैनल द्वारा यहां आयोजित एक समारोह में कहा, ‘महाविकास आघाडी सरकार (एमवीए) ने तत्कालीन मुंबई पुलिस आयुक्त संजय पांडे को मुझे जेल में डालने का लक्ष्य दिया था। एमवीए सरकार ने मुझे फंसाने या किसी भी तरह (मेरे ऊपर) कुछ आपराधिक आरोप लगाने के आदेश दिए थे।’

मैंने गिरफ्तारी जैसा कोई काम नहीं किया

एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में विधायकों के बागी हो जाने के कारण पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली एमवीए सरकार ढह गई थी। इसके बाद शिंदे ने मुख्यमंत्री और फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी संभाली।

फडणवीस ने कहा, ‘यह सच्चाई है और अब आप किसी भी पुलिस अधिकारी से पूछ सकते हैं। वे भी इसके बारे में बताएंगे।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन मैंने ऐसा कोई काम नहीं किया है, जिससे वे मुझे जेल में बंद कर पाते और इसलिए वे नाकाम रहे।’

उद्धव ठाकरे से कोई व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं 

फडणवीस ने कहा कि उनकी शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के प्रमुख उद्धव ठाकरे से कोई व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘उद्धव ठाकरे ने मेरे फोन कॉल का जवाब देना पूरी तरह से बंद कर दिया। अगर वह (राज्य में 2019 के चुनावों के बाद भाजपा के साथ) गठबंधन नहीं करना चाहते थे, तो उन्हें मुझसे ऐसा कहना चाहिए था।’

एमवीए सरकार के गिरने के तुरंत बाद पांडे को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज कर्मचारियों के फोन कथित तौर पर अवैध तरीके से टैप करने से जुड़े धन शोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था। वह फिलहाल जमानत पर रिहा हैं।

यह भी पढ़ें- Patra Chawl Scam: पात्रा चाल घोटाले में 27 फरवरी को होगी अगली सुनवाई, संजय राउत पर तय नहीं हुए आरोप

Edited By: Babli Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट