मंबई, एएनआइ। Iqbal Mirchi PMLA case प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की मुंबई टीम ने मंगलवार को अंडरवर्ल्ड डॉन इकबाल मिर्ची से संबंधित मामले में हुमायूं मर्चेंट नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।गौरतलब है कि दाउद इब्राहिम के करीबी इकबाल मेमन मिर्ची के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शनिवार को भी डीएचएफएल और अन्य लिंक्ड कंपनियों के दर्जनभर परिसरों में छापेमारी की गई थी। मिर्ची के नाम से कुख्यात दिवंगत इकबाल मिर्ची और प्रफुल्ल पटेल के परिवार की प्रमोटिड कंपनी के बीच हुई वित्तीय सौदेबाजी की गई थी। 

धनशोधन निवारण अधिनियम के प्रावधान के तहत शनिवार को मुंबई और उसके करीब लगभग दर्जनभर परिसरों में छापेमारी की गई थी। दरअसल दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्प लिमिटेड का कथित तौर पर सनब्लिंक रियल एस्टेट के साथ व्यवसायिक रिश्ते थे, डीएचएफएल ने रियल एस्टेट फर्म को 2,186 करोड़ रुपये का कर्ज दिया था। 

ईडी को इस मामले में शक है कि सनब्लिंक द्वारा मिर्ची और उसके सहयोगियों से जुड़े खातों को पैसा भेजा गया था। ईडी दस्तावेजों और अन्य सबूतों के आधार पर साक्ष्य की तलाश करने में जुटी है। डीएचएफएल के अनुसार इसमें कथित संदिग्ध लेनदेन का कोई संबंध नहीं है।

ज्ञात हो कि इकबाल मिर्ची की 2013 में लंदन में मौत हो गई थी। उसके ऊपर नशीले पदार्थो की तस्करी और जबरन वसूली जैसे अपराधों में दाऊद इब्राहिम का दाहिना हाथ होने का आरोप लगाया गया था। एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल से भी इस मामले में एजेंसी द्वारा शुक्रवार को मिर्ची के परिवार के साथ कथित संपत्ति के सौदेबाजी के संबंध में पूछताछ की गई थी।

कौन हैं हुमायूं मर्चेंट

हुमायूं मर्चेंट इकबाल मिर्ची के बचपन का मित्र है, और मिर्ची के कामकाज में उसका सहयोग करता था। मिर्ची की प्रॉपटी से जुड़ा लेनदेन वहीं संभालता था। मर्चेंट पर 170 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। वह रियल एस्टेट में डील करता था। मिली जानकारी के अनुसार वह दक्षिणी मुंबई में अंडरवल्र्ड के लोगों से इमारतें खरीदकर कर रियल एस्टेट को बेच देता था।

महाराष्ट्र की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस