मुंबई, आनलाइन डेस्क। नागपुर और शिरडी के बीच नागपुर-मुंबई समृद्धि सुपर कम्युनिकेशन एक्सप्रेसवे महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसलिए उन्होंने खुद इस एक्सप्रेसवे पर टेस्ट ड्राइव की। बता दें कि देवेंद्र फडणवीस जब राज्य के मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने इस सड़क निर्माण की शुरुआत की थी और उस वक्त एकनाथ शिंदे प्रभारी मंत्री थे। इसलिए मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री इस परियोजना को लेकर खासा गंभीर है। एक्सप्रेसवे के इस खंड का लोकार्पण 11 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों किया जाना है, उसी दिन पीएम मोदी नागपुर मेट्रो की शेष लाइनों का भी शुभारंभ करेंगे।

शिंदे और फडणवीस ने की टेस्ट ड्राइव

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एकसाथ रविवार को नागपुर और शिरडी के बीच टेस्ट ड्राइव की। उन्होंने कहा कि ये एक्सप्रेसवे विदर्भ और मराठवाड़ा के भीतरी इलाकों के विकास में मदद करेगा। उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया, 'और वह क्षण आ गया है। महाराष्ट्र ने वास्तव में ऐसा किया है और हम वास्तव में इस सपने को सच करने वाले समृद्धि सुपर कम्युनिकेशन एक्सप्रेसवे पर हैं। हमने कर दिखाया सीएम एकनाथ शिंदे जी।'

क्या है इस एक्सप्रेसवे की खासियत

बता दें कि 11 दिसंबर को एक्सप्रेसवे का कुल 701 किलोमीटर हिस्से में से 520 किमी का हिस्सा लोगों के लिए खुल जाएगा। एक्सप्रेसवे पर 1.73 रुपये प्रति किमी की दर से टोल शुल्क में न्यूनतम 900 रुपये का भुगतान करके शिरडी तक पहुंचा जा सकता है। एक्सप्रेसवे के किनारे 18 पेट्रोल पंप और शौचालय जैसी सुविधाएं बनाई गई हैं। अधिकारियों ने दावा किया है कि इस एक्सप्रेसवे के माध्यम से नागपुर और मुंबई के बीच की दूरी 18 घंटे से घटकर केवल 7-8 घंटे की रह जाएगी।

बालासाहेब ठाकरे के नाम पर एक्सप्रेसवे

जानकारी के अनुसार, 49,250 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत के साथ एक्सप्रेसवे 11 जिलों में फैले 392 गांवों से होकर गुजरता है। वहीं, शिरडी और मुंबई के बीच शेष खंड का काम अगले छह महीनों में पूरा हो जाएगा। इस एक्सप्रेसवे का नाम उद्धव ठाकरे सरकार द्वारा शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब ठाकरे के नाम पर रखा गया है।

ये भी पढ़ें: WHO की रिपोर्टः इंटरनेट के जरिए बच्चों का यौन शोषण करने वालों में ज्यादातर उनके परिचित, जानिए बचाव के उपाय

ये भी पढ़ें: Fact Check: जिओ ने नहीं दिया निधि राजदान को बिल वाला यह जवाब, फर्जी स्क्रीनशॉट वायरल

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट