मुंबई, एजेंसियां। महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र में भारी बारिश, बाढ़ और कोविड-19 महामारी को देखते हुए 27 जुलाई को अपना जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में उद्धव ने कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से कोविड सुरक्षा मानदंडों का सख्ती से पालन करने और उनका जन्मदिन मनाने के लिए सार्वजनिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं करने का आग्रह किया है।

श्री ठाकरे ने रविवार को कहा, “पश्चिमी महाराष्ट्र के कोंकण हिस्से में प्राकृतिक आपदा आयी है और बाढ़ और भूस्खलन के कारण कई लोगों की मौत हुई है, कई परिवार इससे प्रभावित हुए हैं।” 27 जुलाई को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का जन्मदिन है, लेकिन उन्होंने इन आपदाओं के कारण अपना जन्‍मदिन न मनाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी व्यक्ति उन्हें जन्मदिन की बधाई देने के लिए व्यक्तिगत रूप से न मिले और न ही कोई होर्डिंग, पोस्टर लगाए। इसके बजाय, वह सोशल मीडिया और ईमेल के माध्यम से शुभकामनाएं स्वीकार करेंगे।

गौरतलब है कि सीएम उद्धव ठाकरे ने शनिवार को बाढ़ प्रभावित तलाई गांव का दौरा किया था, जहां अब तक 44 शव बरामद किए जा चुके हैं। उन्होंने घोषणा की कि राज्य सरकार भविष्य में ऐसी त्रासदियों से बचने के लिए पहाड़ी ढलानों के साथ रहने वाले लोगों को स्थानांतरित करने की योजना तैयार करेगी। इसके अलावा, उन्होंने घोषणा की कि सरकार पश्चिमी महाराष्ट्र में बाढ़ के पानी के प्रबंधन के लिए एक योजना तैयार करेगी।

Edited By: Babita Kashyap