अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। कोरोना महामारी के दौरान राज्य सरकार की गाइडलाइन का उल्लंघन करते हुए उनकी ही पार्टी भाजपा के कार्यकर्ताओं ने बंगाल में हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन किया। गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने राज्य में किसी भी तरह के सामाजिक सांस्कृतिक व राजनीतिक कार्यक्रम को लेकर साफ मनाही की है। महामारी के दौरान गुजरात सरकार एवं भारतीय जनता पार्टी का संगठन आमने सामने नजर आने लगा।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार तथा आईसीएमआर की गाइडलाइन के मुताबिक एक दिन पहले ही राज्य में कर्फ्यू तथा अन्य दिशा निर्देशों की घोषणा की थी सरकार ने मेडिकल राशन डेरी एवं आवश्यक सेवाओं को सुबह 6:00 बजे से रात को 8:00 बजे तक खुला रखने की मंजूरी दी लेकिन प्रदेश में किसी भी तरह का सामाजिक सांस्कृतिक एवं राजनीतिक कार्यक्रम पर रोक लगा रखी है।

उधर, प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा का विरोध करते हुए इसके खिलाफ गुजरात के हर जिला में तहसील स्तर पर विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया जिसके बाद दक्षिण गुजरात के बारडोली में भाजपा ने विरोध प्रदर्शन का कार्यक्रम भी आयोजित किया।

गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने भाजपा के इस ऐलान को दरकिनार करते हुए साफ कहा है कि कोरोना महामारी के दौरान राज्य में किसी भी तरह के कार्यक्रम नहीं किए जा सकते सरकार में इन पर पूरी तरह रोक लगा रखी है। कोरोना महामारी के दौरान जब सरकार व संगठनों को मिलकर जनता की सेवा करने की जिम्मेदारी है तब भाजपा के इस विरोध प्रदर्शन से उनके ही दल की सरकार पसोपेश में आ गई है।  

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021