मुंबई। छोटे पर्दे के लोकप्रिय शो 'भारत का वीर पुत्र : महाराणा प्रताप' ने 13वें टेलीविजन एकेडमी अवार्ड में सर्वाधिक छह पुरस्कार झटके। वहीं स्टार प्लस पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक 'दिया और बाती हम' को विभिन्न श्रेणियों में पांच पुरस्कार मिले।

महाराणा प्रताप को सर्वश्रेष्ठ ऐतिहासिक पौराणिक धारावाहिक, नकारात्मक भूमिका में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (आशका गोराड़िया), सर्वश्रेष्ठ पोशाक (निकहत मरियम नीरुशाह), सर्वश्रेष्ठ एडिटिंग (के राजगोपाल), सर्वश्रेष्ठ टाइटल ट्रैक (कार्तिक शाह) और सर्वश्रेष्ठ कला निर्देशन (संदेश और विश्वनाथ) के लिए पुरस्कार मिले। गत बुधवार को यहां आयोजित समारोह में सर्वश्रेष्ठ ऐतिहासिक पौराणिक धारावाहिक का पुस्कार महाराणा प्रताप और जोधा अकबर को संयुक्त रूप से दिया गया। 'दिया और बाती हम' को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (अनस रशीद), सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेत्री (नीलू वाघेला), सर्वश्रेष्ठ संवाद (रघुवीर शेखावत) और सर्वश्रेष्ठ नाटक (सीमा मंत्री) की श्रेणियों में पुरस्कार मिले। सर्वश्रेष्ठ निर्देशक (ड्रामा) का पुरस्कार दो धारावाहिकों 'दिया और बाती हम' और 'एक वीर की अरदास.. वीरा' को संयुक्त रूप से दिया गया। सर्वश्रेष्ठ धारावाहिक (ड्रामा) का अवार्ड भी 'वीरा' के नाम रहा।

धारावाहिक में वीरा का किरदार निभाने वाली हर्षिता ओझा को देश का लाड़ला/लाड़ली पुरस्कार के लिए चुना गया। धारावाहिक सरस्वती चंद्र में अपने किरदार के लिए जेनिफर विंगेट को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (ड्रामा) का पुरस्कार मिला। धारावाहिक 'कबूल है' में प्रमुख भूमिका निभाने वाले करण सिंह ग्रोवर को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता और साथ निभाना साथिया की देवोलीना भट्टाचार्य को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री चुना गया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर