मध्य प्रदेश का इंदौर 'माय सिटी माय प्राइड' लिवेबिलिटी सर्वे रिपोर्ट में सबसे अव्वल रेटिंग पाने में सफल रहा है। दस शहरों के रेटिंग स्कोर कार्ड में यह शहर शीर्ष पायदान पर है। सर्वे में शहरों की रेटिंग को 1 से 5 अंकों के स्केल पर मापा गया, जिसमें इंदौर को 3.69 अंक मिले। सर्वे रिपोर्ट से पता चलता है कि इंदौरवासी अपने शहर में मिल रही सुविधाओं से खुश नजर आ रहे हैं।

कुल दस शहरों को लेकर किए गए इस सर्वे में लोगों को पांच अहम मानकों पर अपने-अपने शहरों की रेटिंग को तय करने का विकल्प दिया गया था। इनमें से चार मानकों पर इंदौर शीर्ष पर जगह बनाने में सफल रहा। अर्थव्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा और बुनियादी सेवाओं के मामले में इस शहर को पहली रैकिंग मिली, जबकि सुरक्षा के मामले में इसे दूसरे पायदान पर जगह मिली।

अर्थव्यवस्था के मामले में इंदौर को पांच में से 3.86 अंक मिले, जबकि शिक्षा के मामले में उसे 3.74 अंक मिले हैं। वहीं, स्वास्थ्य सेवाओं के मामले में 3.69 अंक जबकि बुनियादी सेवाओं के मामले में मध्य प्रदेश के इस आधुनिक शहर को 3.81 और सुरक्षा के मामले में 3.30 अंक मिले।


वर्क कल्चर में टॉप पर
कार्य संस्कृति (वर्क कल्चर) के लिहाज से देखा जाए तो लोगों ने इस शहर को सबसे ऊपरी पायदान पर रखा है। इस मामले में इंदौर को सबसे ज्यादा 4.13 अंक मिले हैं। वहीं बिजली आपूर्ति को लेकर यहां के लोग खुश हैं। लोगों ने इस मामले में इस शहर को पांच में से 4.06 अंक दिए हैं।
लोगों ने माना कि स्कूलों की उपलब्धता के मामले में इंदौर की स्थिति उम्मीद के मुताबिक है। वहीं, किफायती आवास, परिवहन व्यवस्था और खाने-पीने के खर्च के मामले में भी यह शहर उनकी उम्मीदों पर खरा उतरता है। सड़क की स्थिति भी यहां शानदार है। यहां के लोगों ने इस मामले में 3.99 अंक दिए हैं।
पुलिस का रेस्पॉन्स टाइम है समस्या
पुलिस के रिस्पॉन्स टाइम के मामले में इंदौर शहर की उल्टी तस्वीर सामने आई है। लोगों का मानना है कि क्राइम स्पॉट तक पुलिस के पहुंचने के मामले में उसे और अधिक सक्रिय और तेज होने की जरूरत है। इस मामले में लोगों ने इस शहर को 3.46 अंक दिए। वहीं, सुरक्षा को लेकर भी इंदौर शहर अन्य मानकों पर थोड़ा कमजोर नजर आया। इस मानक पर लोगों ने शहर को पांच में से 3.42 अंक दिए हैं।
स्ट्रीट क्राइम को लेकर दिखी चिंता
रात में महिलाओं के बाहर निकलने के दौरान उनकी सुरक्षा के लिहाज से इंदौर को लेकर लोग चिंतित नजर आए। लोगों ने इस शहर को पांच में से 3.18 जबकि गुंडागर्दी की घटनाओं के मामले में लोगों ने इस शहर को 2.95 अंक दिए हैं। लोगों ने स्ट्रीट क्राइम को इंदौर की आम समस्या माना है। इस मामले में इंदौर की रैंकिंग कमजोर रही और उसे पांच में से 2.94 अंकों की रेटिंग मिली।

By Krishan Kumar