रीवा, जेएनएन। पड़री ग्राम में मजदूरी को लेकर हुए विवाद में अशोक साकेत नाम के मजदूर पर हमला किया गया, जिससे उसका बायां हाथ कट गया। घटना के तुरंत बाद ही उसे इलाज के लिए संजय गांधी अस्‍पताल में भर्ती करवाया गया। यहां मौजूद छह डाक्‍टरों की टीम जटिल आपरेशन कर उसका हाथ दोबारा जोड़ने में कामयाब रही। हालांकि हाथ को पूरी तरह से जोड़ने में अभी एक से अधिक आपरेशन किए जाएंगे। इस घटना की जानकारी जैसे ही मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मिली उन्‍होंने तुरंत प्रशासनिक अधिकारियों से इस बारे में जानकारी ली और पीड़ित मजदूर के लिए हर संभव मदद का निर्देश दिया।

सरकार ने दी दो लाख की सहायता

राज्‍य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वेच्छानुदान से पीड़ित मजदूर के परिजनों की मदद के लिए 2 लाख रुपये का चेक दिया। कमिश्नर ने संजय गांधी अस्पताल पहुंचकर पीड़ित मजदूर का हालचाल पूछा व उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। मजदूर के परिजनों को कहा कि सरकार की ओर से पीड़ित को इलाज निशुल्‍क किया जाएगा व हर संभव मदद की जाएगी। इलाज में जुटी डॉक्टरों की टीम कटे हाथ को दोबारा से जोड़ने का हरंभव प्रयास कर रही है। हालांकि पहला ऑपरेशन पूरी तरह से सफल रहा है। मजदूर पर हमला करने वाले आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पीड़ित मरीज का उपचार कर रही डॉक्‍टर की टीम में सर्जन डॉ. सौरभ सक्सेना, डॉ. पारस, डॉ. सद्दाम, डॉ. अनसवारा, डॉ. चिरंजीव एवं डॉ. कुंदर को शामिल किया गया है।

Edited By: Babita Kashyap