जबलपुर, जागरण आनलाइन डेस्‍क। जबलपुर आने वाले स्पाइसजेट के विमान को दिल्ली में इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी। विमान में करीब 70 यात्री सवार थे। इस विमान को 8:50 बजे दिल्ली से जबलपुर पहुंचना था, लेकिन विमान में तकनीकी खराबी के चलते इसे दिल्ली एयरपोर्ट पर ही उतारा गया। स्पाइसजेट के स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक, स्पाइसजेट का दिल्ली जाने वाला विमान तय समय से करीब दो घंटे देरी से जबलपुर पहुंचेगा। यात्रियों की सुविधा के लिए दूसरे विमानों से यात्रियों को लाया जा रहा है।

धुआं देख दहशत में यात्री

स्पाइसजेट के विमान ने जैसे ही दिल्ली से उड़ान भरी, विमान के अंदर धुआं उठता देख यात्री डर गए। इसके बाद पायलट ने तुरंत दिल्ली में ही विमान को उतारने की अनुमति मांगी। इसके बाद विमान को उतारा गया। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली से आने वाली स्पाइसजेट की फ्लाइट करीब साढ़े 10 बजे जबलपुर में उतरेगी।

 19 जून को स्‍पाइस जेट के विमान में लगी थी आग 

बीते माह 19 जून को भी इस तरह का एक हादसा हुआ था। जब स्‍पाइस जेट के ही एक विमान में आग लग गई थी। विमान में इंजन की खराबी की वजह से आग लग गई थी। आग देख यात्रियों में हड़कंप मच गया था। इस विमान में 185 यात्री सवार बताये गए थे। विमान कंपनी के अनुसार पक्षी के टकराये जाने की वजह से ये हादसा हुआ था।

दरअसल, आग की भनक लगते ही विमान परिचारिका चिल्लाने लगी। मिली जानकारी के मुताबिक स्पाइसजेट की फ्लाइट नंबर SG-723 में आग लगी थी। हवाई अड्डे के सूत्रों ने कहा कि चील के ऊंचाई पर टकराने के कारण तेज आवाज आई थी लेकिन इसके बावजूद उड़ान जारी रही। लेकिन जब फ्लाइट आगे बढ़ी तो उसे देखकर एयर होस्टेस ने पेन पेन चिल्लाना शुरू कर दिया।

इस चीखने-चिल्लाने से पायलट को तुरंत सूचना मिली और उसे स्थिति की गंभीरता का अहसास हुआ। सबसे खास बात यह है कि इस कोड वर्ड से फ्लाइट के अंदर बैठे यात्रियों में कोई दहशत नहीं थी और पायलट ने धैर्य दिखाया और पटना में ही कुछ देर हवा में मंडराकर फ्लाइट को वापस एयरपोर्ट पर उतार। बता दें कि इस फ्लाइट ने पटना से 12:03 बजे उड़ान भरी, 12:22 बजे इसे पटना के जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुरक्षित उतारा गया।

Edited By: Babita Kashyap