ग्वालियर, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ का असर ग्वालियर में दिखाई दे रहा है। इससे मंगलवार को अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई, जिससे शहरवासियों को गर्मी से राहत मिली। बादलों के सामने सूरज का रुख कुछ मंद पड़ गया। रात में भी गर्मी से राहत मिली है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो दिनों तक तापमान 43 से 44 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा, लेकिन 20 मई से तापमान फिर से बढ़ना शुरू हो जाएगा और लू की संभावना बनी रहेगी।

शहर ने तीन दिनों तक 46 डिग्री सेल्सियस तापमान झेला था। लोग राहत की आस लगाए बैठे थे। पश्चिमी विक्षोभ के आने के बाद दिन और रात के तापमान में गिरावट शुरू हो गई है। दो दिन में अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 43.6 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। औसत तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। राजस्थान से गर्म हवा भी तेज गति से नहीं आ रही है। जिससे पहले दिन जेठ के दोपहर में ज्यादा पैर नहीं जले। अधिकतम तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री सेल्सियस रहा।

आगे कैसा रहेगा मौसम

एक पश्चिमी विक्षोभ इस समय जम्मू-कश्मीर के ऊपर से गुजर रहा है। इसके चलते अब हवा का रुख बदल गया है। यह पश्चिमी विक्षोभ दो दिनों तक सक्रिय रहने वाला है, तब तक गर्मी से राहत मिलेगी। इसके बाद दो दिनों तक तापमान में बढ़ोतरी होगी। 22 मई को एक नया पश्चिमी विक्षोभ आएगा। यह एक मजबूत पश्चिमी विक्षोभ है, जिसके कारण बादल छाए रहेंगे और तेज हवाएं चलेंगी। अगले दो दिनों तक तापमान 43 से 44 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा, लेकिन 20 मई से तापमान फिर से बढ़ना शुरू हो जाएगा।

-नौतपा के भी इस बार ज्यादा गर्मी पड़ने की संभावना नहीं है, क्योंकि पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना है।

तापमान की स्थितिः

-अधिकतम तापमान-43.6 डिसे

-न्यूनतम तापमान-28.9 डिसे

पारे की चाल

समय तापमान

05:30 - 30.0

08:30 - 36.6

1130 - 41.8

14:30 - 43.2

17:30 - 41.8

Edited By: Babita Kashyap