इंदौर, जेएनएन। प्रवासी भारतीय सम्मेलन में प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर जिस इलाके में खास चौकसी रखी जा रही है उसी में लूट हो गई। स्कूटर सवार बदमाश महिला प्रोफेसर का फोन छीन कर फरार हो गए। पुलिस ने एफआइआर लिखने में चार दिन लगा दिए। इस इलाके में एक सप्ताह में यह चौथी घटना है। पुलिस शिकायतकर्ताओं को सिटीजन काप पर शिकायत करने की सलाह दे रही है।

विजयनगर डी-सेक्टर निवासी रंजीता दिनेश्वर निजी कालेज में प्रोफेसर हैं। 30 नवंबर को रात करीब पौने दस बजे स्कीम-78 (स्लाइस-4) में टहल रही थीं। जैसे ही हट्टी मार्केट के पास पहुंची स्कूटर सवार दो बदमाश फोन छीन कर ले गए। रंजीता के मामा जयदीप प्रसाद एडीजी हैं और वर्तमान में नागरिक उड्डयन विभाग दिल्ली में पदस्थ हैं।

पुलिस ने किया गैर जिम्मेदाराना बर्ताव

प्रसाद इंदौर में भी एएसपी रह चुके हैं। रंजीता का आरोप है कि पुलिस ने रिपोर्ट लिखने में काफी परेशान किया। घटना के बाद थाने पहुंची लेकिन महिला अफसर ने एक फार्म सौंपा और कहा इसे भर दो। दूसरे दिन गई तो सिटीजन काप पर गुम होने की शिकायत करने का दबाव बनाया। मामा (एडीजी) ने बात की लेकिन पुलिसवालों पर असर नहीं हुआ। टीआइ से भी मिलने नहीं दिया। तीन दिन चक्कर लगाए तब शनिवार को चोरी की शिकायत दर्ज हुई। पुलिसवालों ने कहा हजारों फोन लूटे जाते हैं। पुलिस कहां-कहां ध्यान रखेगी।

फरियादी ने खुद सीसीटीवी फुटेज जुटा कर पुलिस को सौंपे

जिस जगह घटना हुई वहां नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, आइडीए की टीम काम कर रही है। पुलिसवाले घर-घर का सत्यापन कर रहे हैं। जनवरी में होने वाली समिट और प्रवासी भारतीय सम्मेलन के कारण विशेष ध्यान है। इसके बावजूद एक सप्ताह में चार घटनाएं हो गई। तीन दिन पूर्व ही जागृति नामक युवती से स्कूटर सवारों ने फोन लूटा था। पुलिस ने सिर्फ आवेदन लिया। फरियादी ने खुद सीसीटीवी फुटेज जुटा कर पुलिस को सौंपे। तेल कारोबारी से भी दो लाख रुपये लूटे

स्कीम-78, स्कीम-74 और स्कीम-114 में लूट व चोरी की ज्यादा घटनाएं होती हैं। कुछ दिन पूर्व तेल कारोबारी से बाइक सवार बदमाश पौने दो लाख नकद और स्कूटर छीन कर ले गए थे। पुलिस ने स्कूटर ही लावारिस बरामद किया। बदमाश और रुपयों का अभी तक पता नहीं चल पाया। ज्यादातर घटनाओं में पुलिसकर्मी एफआइआर नहीं करते। सिम कार्ड इशू करवाने के लिए आवेदन पत्र पर सील लगा देते हंै। आवेदक से सिटीजन काप पर शिकायत करवा देते हैं।

Edited By: Piyush Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट