भोपाल, जेएनएन। इस समय राजधानी भोपाल समेत पूरा राज्य भीषण गर्मी के दौर से गुजर रहा है। दोपहर में सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहता है। ऐसे में नौतपा भी इसी महीने शुरू होने जा रही है। ज्योतिषी पंडित विष्णु राजौरिया के अनुसार 24 मई की मध्यरात्रि के बाद सूर्य दोपहर 2.33 बजे रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। सूर्य के रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश के साथ ही 25 मई से नौतपा शुरू हो जाएगा। उस समय सूर्य वृष राशि में बुध ग्रह के साथ युति करेगा। चंद्रमा को रोहिणी नक्षत्र का स्वामी माना जाता है। राजौरिया के अनुसार सूर्य 15 दिनों तक रोहिणी नक्षत्र में रहेगा। इसमें से शुरुआती नौ दिनों तक गर्मी अपने चरम पर रहती है। इन नौ दिनों को नौतपा कहा जाता है। इस दौरान सूर्य की लंबवत किरणें पृथ्वी पर पड़ती हैं। ऐसे में शुरुआती नौ दिनों में सबसे ज्यादा गर्मी पड़ती है। ऐसे में वातावरण बहुत गर्म हो जाता है। धूल भरी आंधी और लू की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में विवाहादि मांगलिक न करने की सलाह दी जाती है क्योंकि मौसम में काफी उतार-चढ़ाव की संभावना बनी रहती है। नौतपा इस बार 2 जून तक रहेगा।

ज्‍योतिषीय गणना के अनुसार जानें नौतपा

नौतपा के शुरू होने के पहले मेष राशि में राहु, शुक्र ग्रह की युति और वृषभ राशि में सूर्य, बुध ग्रह की युति रहेगी। इससे बुधादित्‍य जैसा शुभ योग बनेगा। कुंभ राशि में स्वग्रही शनि वहीं केतु ग्रह तुला राशि में होंगे। मीन राशि में चंद्रमा, बृहस्पति की युति होगी। शुक्र ओर राहु ग्रह की सप्तम दृष्टि केतु पर होगी। 26 मई को चंद्रमा राशि परिवर्तन करेंगे। वृष राशि में सूर्य के साथ चंद्रमा रहेगा। 30 मई को वृषभ राशि में शुक्र अस्त हो जाएगा। इसके प्रभाव से गर्मी में कमी आएगी, लेकिन उमस रहेगी। यानी नौतपा के अंतिम तीन दिनों में तेज हवा के साथ उमस भरा मौसम रहेगा।

Edited By: Babita Kashyap