भोपाल, जागरण आनलाइन डेस्‍क। वर्तमान में, मॉनसून ट्रफ सतना के रास्ते बंगाल की खाड़ी में बने निम्न दबाव तक फैली हुई है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना निम्न दबाव का क्षेत्र तेज होने की संभावना है। रविवार तक यह डिप्रेशन में बदल सकता है। इसके पश्चिम से उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। इसके प्रभाव से पूर्वी मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में अगले दो दिनों में भारी बारिश हो सकती है।

आने वाले दिनों में यह और तेज हो सकता है, जिससे मध्य प्रदेश के अन्य शहरों में भी अच्छी बारिश होने की संभावना है। ये सभी गतिविधियां 15 अगस्त से शुरू होंगी। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी डॉ. ममता यादव ने बताया कि रविवार-सोमवार को प्रदेश के विभिन्न शहरों में काले बादल छाए रहेंगे।

15 अगस्त से भारी बारिश होने की संभावना

रुक-रुक कर बारिश शनिवार की तरह जारी रहेगी। भोपाल, नर्मदापुरम, होशंगाबाद, उज्जैन, इंदौर में 15 अगस्त से भारी बारिश होने की संभावना है। संभावना है कि मौसम विभाग इन इलाकों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी करेगा।

मौसम विज्ञानी पी.के. साहा ने कहा कि बंगाल की खाड़ी में हवा के ऊपरी हिस्से में बने चक्रवात के कारण मिल रही नमी के कारण रविवार को रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभाग के जिलों में भारी बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

वहीं शनिवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक सीधी में 28, दमोह में 13, नर्मदापुरम में आठ, रीवा व उमरिया में सात, शिवपुरी में छह, जबलपुर में 5.4, भोपाल में पांच, खजुराहो में चार, सतना में तीन, ग्वालियर, नौगांव व मंडला में दो, उज्जैन में एक, सागर में 0.4, इंदौर में 0.3, बैतूल में 0.2 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई।

यह भी पढ़ें-

मप्र के लोगों में आजादी का पर्व देखने की मची होड़, दोगुना हुआ दिल्‍ली का हवाई किराया

Chhattisgarh News: पहली बार ट्रेन देख झूम उठे सैकड़ों लोग, हाथों में गुब्‍बारे और तिरंगा लिए सुबह से कर रहे थे इंतजार

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट