बैतूल, जेएनएन। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के केरपानी में मंगलवार रात दूल्हे के बुलडोजर पर सवार होकर ग्राम में भ्रमण करने के मामले में पुलिस ने चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर पांच हजार रुपये का जुर्माना वसूला है। झल्लार थाना प्रभारी दीपक पाराशर ने बताया कि बुलडोजर का पंजीयन और उपयोग व्यावसायिक किया जाता है। इसका उपयोग लोगों का परिवहन करने के लिए नहीं किया जा सकता है। केरपानी गांव में बुलडोजर पर दूल्हे के सवार होने का मामला सामने आने के बाद जांच-पड़ताल की गई। इसके बाद बुलडोजर चालक ग्राम सायगोहान निवासी रवि पुत्र भीमा बारस्कर के खिलाफ पंजीयन नियमों के उल्लंघन पर धारा 39/192(1) के तहत प्रकरण दर्ज कर पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

दरअसल, केरपानी निवासी इंजीनियर अंकुर जायसवाल के विवाह के एक दिन पूर्व वर निकासी (बिनाकी) की इस परंपरा को बड़े उत्साह के साथ निभाया गया। बुलडोजर को सजाया गया था और उसके बकेट (पंजे) में अंकुर बैठ गए। इसके बाद आगे बैंड, डीजे की धुन पर थिरकते परिवार के लोग और मित्रों के साथ बुलडोजर पर सवार दूल्हा ग्राम के प्रमुख मार्गों से होकर गुजरा। बुलडोजर पर अंकुर के साथ उनकी बहनें और भांजे-भांजियां भी बैठीं। बुलडोजर की बकेट में बैठे-बैठे ही डीजे की धुन पर अंकुर भी थिरकते नजर आए। अंकुर ने बताया कि वह इंजीनियर है और बुलडोजर से उसका हर दिन पाला पड़ता है। उसने विवाह को यादगार बनाने के लिए ऐसा कदम उठाया। इसमें परिवार के लोगों की भी सहमति थी।

बुलडोजर पर सवार होकर निकला दूल्हा तो दंग रह गए ग्रामीण

बैतूल जिले के ग्राम केरपानी में मंगलवार रात में शादी के पूर्व हुए वर निकासी कार्यक्रम में दूल्हा घोड़ी या बग्गी में नही, बल्कि बुलडोजर की बकेट में सवार होकर निकला। जिसने भी दूल्हे का यह अंदाज देखा, वह दंग रह गया। दरअसल कुरवाई नगर पालिका में संविदा पर पदस्थ इंजीनियर अंकुर जैसवाल का विवाह पाढर निवासी स्वाति के साथ बुधवार को तय हुआ। विवाह के एक दिन पूर्व दूल्हा घर से दुल्हन को लेने के लिए निकल जाता है। वर निकासी की इस परंपरा को बड़े उत्साह के साथ निभाया जाता है। मंगलवार को केरपानी गांव में वर निकासी का कार्यक्रम रखा गया था। दूल्हा सज-धज कर घर से बाहर आया तो रिश्तेदारों और ग्रामीणों को कल्पना भी नहीं थी कि वह बुलडोजर में सवार हो जाएगा। वर निकासी के लिए बुलडोजर को भी सजाया गया था और उसकी बकेट में अंकुर बैठ गए। इसके बाद आगे बैंड, डीजे की धुन पर थिरकते परिवार के लोग और मित्रों के साथ बुलडोजर पर सवार दूल्हा ग्राम के प्रमुख मार्गों से गुजरा। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra