भोपाल, जेएनएन। मध्‍य प्रदेश की राजनीति में इन दिनों कांग्रेसी कार्यकताओं का 'घुटने तोड़ने' वाला बयान चर्चा में बना हुआ है। बीते कुछ दिनों से इसे लेकर भाजपा व कांग्रेस के बीच शीतयुद्ध छिड़ा हुआ तो जो अब गांधीगिरी तक पहुंच चुका है। पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह बुधवार को कांग्रेसी कार्यकताओं के साथ हुजूर विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामेश्वर शर्मा के बंगले पर रामधुन के साथ रवाना हो गए है। इसमें शामिल होने के लिए मिंटो हाल के सामने गांधी जी की प्रतिमा के पास बड़ी संख्या कांग्रेसी एकत्रित हुए थे।

तो वहीं विधायक रामेश्‍वर शर्मा ने भी कांग्रेसियों के स्‍वागत की तैयारियां करने के साथ स्वागत द्वार व रामधुन के लिए पंडाल लगाया हुआ है। दोपहर में ये कांग्रेसी कार्यकर्ता विधाायक के घर पहुंच जाएंगे। हालांकि ऐसी संभावना है कि पुलिस इन्‍हें बीच में भी रोक सकती है। ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले ही विधायक रामेश्‍वर शर्मा ने कलखेड़ा गांव में एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेसियों के घुटने तोड़ने की बात कही थी। इसी पर गांधीगिरी के तरीके से कांग्रेसी कार्यकर्ता विधायक शर्मा को गांधी जी की प्रतिमा देने उनके बंगले पर जा रहे हैं, यहां वह रामधुन भी करेंगे।

दिग्विजय सिंह बोले- घुटने तोड़ने वाले भाजपा विधायक ने कांग्रेसियों के सामने घुटने टेके

भाजपा विधायक का 'घुटने तोड़ने' वाला बयान इन दिनों मध्‍य प्रदेश की राजनीति में छाया हुआ है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने इसे हिंसा पर अहिंसा की जीत बताते हुए कहा के घुटने तोड़ने वाले भाजपा विधायक ने कांग्रेसियों के सामने घुटने टेक दिए। कांग्रेसी कर्ताओं को हलवा पूड़ी का निमंत्रण मिला है।

Edited By: Babita Kashyap