इंदौर, जेएनएन। इंदौर के एमवाय अस्पताल में वर्तमान में ब्लैक फंगस के उपचार के लिए 25 मरीज भर्ती हैं। पिछले दो से तीन महीने बाद अब शहर में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में कमी दिखाई दे रही है। एमवाय अस्पताल में पहले जहां डेढ़ सौ से ज्यादा ब्लैक फंगस संक्रमित मरीज भर्ती हुआ करते थे, वहीं अब स्थिति यह है कि अस्पताल में अधिकांश बेड खाली हैं और भर्ती मरीजों का आंकड़ा 30 से नीचे आ गया है।

सोमवार को एमवाय अस्पताल में ब्लैक फंगस का उपचार के लिए भर्ती किसी भी मरीज की सर्जरी नही की गई, सिर्फ चार मरीजों की एंडोस्कोपी की गई। पहले के मुकाबले अब लगातार नए मरीज भी भर्ती नहीं हो रहे हैं। अब तक अस्पताल में 961 मरीजों की सर्जरी और 1662 मरीजों की एंडोस्कोपी हो चुकी है। सोमवार को अस्पताल से चार मरीजों को भी डिस्चार्ज किया गया। अस्पताल से अब तक 701 मरीज ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं।

अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए फिलहाल 1105 एंटीफंगल इंजेक्शन उपलब्ध हैं। अस्पताल में ब्लैक फंगस के उपचार के लिए भर्ती 63 मरीजों की मौत हो चुकी है। चिकित्सकों के मुताबिक अभी संभावना जताई जा रही है कि अक्टूबर माह के अंत तक अस्पताल में मरीजों की संख्या 15 से कम होगी।

वर्तमान में नए मरीज जो अभी तक आसपास के जिलों से आते थे उनकी संख्या में भी कमी आई है। अब बहुत कम संख्या में मरीज दूसरे जिलों से उपचार के लिए इंदौर आ रहे हैं, इस वजह से अस्पताल में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में कमी दिखाई दे रही है। 

Edited By: Priti Jha