गुना, प्रेट्र। मध्य प्रदेश के गुना जिले में शिकारियों द्वारा पिछले सप्ताह तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में गिरफ्तार लोगों की संख्या अब तक पांच हो गई है। अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी, लेकिन दो आरोपित अभी भी फरार हैं। गुना के पुलिस अधीक्षक (एसपी) राजीव कुमार मिश्रा के मुताबिक, इस मामले में शामिल इरशाद खान जो अवैध शिकार के दौरान आरोपित के साथ था, को शुक्रवार शाम बजरंगगढ़ बाईपास से गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही 14 मई की तड़के तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में अब तक तीन आरोपित मारे जा चुके हैं और पांच अन्य को गिरफ्तार किया गया है।

जानें, क्या है मामला

जिला मुख्यालय से लगभग 60 किलोमीटर दूर सागा बरखेड़ा गांव के पास शिकारियों के एक समूह द्वारा गोलियां चलाने के बाद तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी, जिनमें से अधिकांश एक परिवार से थे। इस घटना के बाद  बिधौरिया गांव में घर-घर तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें एक आरोपित नौशाद खान (35) का शव मिला, जो कथित तौर पर पुलिसकर्मियों की जवाबी फायरिंग में मारा गया था। उसी दिन एक अन्य आरोपित शहजाद खान (38) पुलिस कर्मियों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था। 17 मई को एक अन्य आरोपित छोटू खान को एक मुठभेड़ में रुठियाई इलाके में मार गिराया गया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार किए गए चारों आरोपितों की पहचान इरशाद खान के अलावा शानू उर्फ ​​शफाक खान (27), मोहम्मद जिया खान (28), निसार खान (70) और उनके बेटे शाहराज खान (52) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि इस मामले में वांछित दो अन्य गुल्लू खान (25) और विक्की उर्फ ​​दिलशाद खान (25) अभी भी फरार हैं। पुलिस ने कहा कि शिकारियों ने नौशाद खान के परिवार में एक शादी समारोह के लिए मांस के लिए काले हिरण का शिकार किया था, जब पुलिस की एक टीम उनकी मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची तो गोलीबारी हुई और जवाबी कार्रवाई की गई। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra