भोपाल, जेएनएन। मध्य प्रदेश में भोपाल नगर निगम द्वारा बालीवुड अभिनेता रजा मुराद को स्वच्छता का ब्रांड एंबेसडर बनाने के एक दिन बाद ही उन्हें हटा दिया गया। प्रदेश के नगरीय विकास व आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने रजा मुराद को ब्रांड एंबेसडर बनाए जाने के निर्णय को रद करने के निर्देश दिए थे। सिंह ने कहा कि जो भोपाल की संस्कृति से परिचित हो या जिनका साफ सफाई के क्षेत्र में योगदान हो, ऐसे व्यक्ति/संस्था को स्वच्छता का ब्रांड एंबेसडर बनाया जाए। इस पर रजा मुराद ने कहा कि मेरा भोपाल से पुराना नाता है। बिना कारण मुझे हटाया गया। भोपाल मेरी रग-रग में बसता है। गुरुवार को रजा मुराद ने शहर में जनसंवाद भी किया था, जिसमें स्वच्छता के टिप्स दिए थे। इधर, जानकारों ने बताया कि 2018 के विधानसभा चुनाव में रजा मुराद ने कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के समर्थन में प्रचार किया था। यही वजह है कि मामले को राजनीतिक दृष्टिकोण से देखा गया। वैसे रजा मुराद मूल रूप से भोपाल के ही निवासी हैं।

गौरतलब है कि इंदौर शहर ने फिर देश के सबसे स्‍वच्‍छ शहर का खिताब अपने नाम कर लिया है। स्‍वच्‍छता के मामले में इंदौर चार साल से देश में अग्रणी रहा है और अब पांचवीं बार उसे ये सम्‍मान हासिल हुआ है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने दिल्‍ली स्थित विज्ञान भवन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान स्वच्छ सर्वेक्षण का पुरस्कार निगमायुक्त प्रतिभा पाल को दिया। स्वच्छ सर्वेक्षण के साथ कचरा मुक्त शहर, स्टार रेटिंग प्रोटोकाल की फाइव स्टार रेटिंग का पुरस्कार भी इंदौर को मिलन तय माना जा रहा है। ड्रेनेज के सफाईकर्मियों की सुरक्षा के लिए इस साल सफाई मित्र सुरक्षा प्रतियोगिता का अवार्ड भी इंदौर को ही मिलना तय था। इस आयोजन में संभागायुक्त पवन शर्मा, कलेक्टर मनीष सिंह, अपर आयुक्त संदीप सोनी, कार्यपालन यंत्री महेश शर्मा और स्वास्थ अधिकारी अखिलेश उपाध्याय उपस्थित थे। यहां निगम व जिला प्रशासन के अफसरों के साथ पुरस्कार लेने वालों में पहली बार इंदौर की सफाई मित्र इंद्रा आदिवाल को भी बुलाया गया था। इस आयोजन में सांसद शंकर लालवानी भी उपस्थित रहे। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra