भोपाल, राज्‍य ब्‍यूरो। मध्य प्रदेश के खाद्य व आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने सवर्ण समाज की महिलाओं को लेकर पहले दिए बयान पर माफी मांगी है। एएनआई से मिली जानकारी के अनुसार मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने ट्वीट कर कहा कि मेरे बयान से अगर किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची हो तो मैं माफी मांगता हूं, लेकिन मैंने ऐसा किसी समुदाय को नीचा दिखाने के लिए नहीं कहा। मेरा मकसद यह कहना था कि सभी पृष्ठभूमि की महिलाएं समानता के साथ समाज सेवा करें। लोगों ने मेरी बातों को तोड़-मरोड़ कर पेश किया।

मंत्रियों और भाजपा नेताओं के बिगड़े बोल पर लगाम लगाए सरकार

खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह द्वारा सवर्ण समाज की महिलाओं को लेकर की गई विवादास्पद टिप्पणी पर कांग्रेस ने आपत्ति जताई है। पार्टी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मांग की है कि वे मंत्रियों और भाजपा नेताओं के बिगड़े बोल पर लगाम लगाएं और मंत्री को विवादित बयान पर माफी मांगने के लिए निर्देश दें।

विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि यह पहली घटना नहीं है जब भाजपा के मंत्री के बिगड़े बोल सामने आए हों। इसके पहले पार्टी के प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव कह चुके हैं कि उनकी एक जेब में ब्राह्मण और दूसरी जेब में बनिया (वैश्य) रहते हैं। विधायक रामेश्वर शर्मा कहते हैं कि कांग्रेसियों के घुटने तोड़ दो तो एक संसद सदस्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लेकर अमर्यादित टिप्पणी करते हैं। इन सब पर रोक लगाई जाए।

वहीं, प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष डा.अर्चना जायसवाल ने खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह द्वारा सवर्ण समाज की महिलाओं पर की गई टिप्पणी को निंदनीय बताते हुए माफी मांगने की मांग की। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं किया जाता है तो संगठन पूरे प्रदेश में प्रदर्शन करेगा।

पहले भी अपनी बयानबाजी को लेकर सुर्खियों में रह चुके हैं मंत्री

गौरतलब है कि फुनगा गांव के खेल स्टेडियम में सर्वजन सुखाय सामाजिक संस्था ने नारी सम्मान समारोह का आयोजन किया था। बिसाहूलाल मुख्य अतिथि थे। मंत्री बिसाहूलाल सिंह सवर्ण समाज की महिलाओं के ऊपर की गई उनकी टिप्पणी इंटरनेट मीडिया में खूब वायरल हो रही है। मंत्री पहले भी अपनी बयानबाजी को लेकर सुर्खियों में रह चुके हैं।

Edited By: Vijay Kumar