भोपाल, जेएनएन।कृषि कानूनों (Farmers Law) के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा ने आज भारत बंद (Bharat Bandh) बुलाया है। बंद सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक रहेगा। राज्‍य के ग्वालियर, भोपाल, इंदौर, जबलपुर, विदिशा, उज्जैन, रतलाम, होशंगाबाद, देवास, सतना, रीवा, सागर, खंडवा, खरगोन, झाबुआ, आलीराजपुर, बुरहानपुर, बड़वानी और अन्‍य शहरों में भारत बंद को मिला जुला समर्थन मिल रहा है। हालांकि राज्‍य के हाइवे पर और मुख्‍य मार्गों पर वाहनों की आवाजाही पहले की तरह ही सामान्‍य है। व्‍यापारी भी इस बंद का समर्थन नहीं कर रहे हैं। हालांकि सुबह के समय इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, सतना, रीवा, सागर, खंडवा, खरगोन, बुरहानपुर, बड़वानी, धार, झाबुआ, आलीराजपुर, उज्जैन, रतलाम, होशंगाबाद, देवास और अन्‍य शहरों में बंद बेअसर दिख रहा था।

विदिशा में समर्थकों के विरोध के बाद दुकानें बंद

विदिशा शहर में भारत बंद का मिला जुला असर नजर आ रहा है। सुबह यहां नाश्‍ते की दुकानें खुली थी लेकिन सर्मथकों के विरोध के बाद संचालकों ने दुकानें बंद कर दीं। सुरक्षा के मद्देनजर चौराहों पर पुलिस को तैनात कर दिया गया है।

जानें सुबह क्‍या थी जबलपुर की स्थिति 

संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों के विरोध में देशव्‍यापी भारत बंद का आह्वान किया है, लेकिन राज्‍य के जबलपुर की बात करें तो यहां भी इसका कोई असर देखने को नहीं मिल रहा था। सभी दुकानें सामान्‍य दिनों की तरह ही खुलरऔर लोग अपनी आवश्‍यकतानुसार सामान भी खरीद रहे हैं। जबलपुर के मोहल्‍लों और चौराहों की बात करें तो यहां भी हालात सामान्‍य बताये जा रहे थे। लोकल मार्किट भी खुल गई थी। गुलौआ चौक, लेवर चौक, रानीताल चौराहा, गढ़ा बाजार, मालवीय चौक आदि की दुकानें सामान्‍य दिनों की तरह सुबह ही खुल गई थी। 

Edited By: Babita Kashyap