नईदुनिया, भोपाल । मध्य प्रदेश में सरकार में आते ही मंदसौर गोलीकांड सहित सिंहस्थ घोटाले और अन्य मुद्दों पर कांग्रेस के सुर बदल गए हैं। गृह मंत्री बाला बच्चन ने मंदसौर गोलीकांड में प्रशासन को बेकसूर ठहरा दिया है। सोमवार को विधानसभा में लिखित सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मंदसौर में किसानों पर गोली कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए आत्मरक्षा में चलाई गई थी।

विधायक हर्ष विजय गहलोत के सवाल के जवाब में बाला बच्चन ने कहा कि मंदसौर के पिपलिया मंडी थाना में छह जून 2017 को हिंसक भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आत्मरक्षा, सरकारी और निजी संपत्ति की सुरक्षा के लिए गोली चलाई गई थी। मामले की जांच कर रहे आयोग की रिपोर्ट पर सरकार परीक्षण कर रही है और इसके बाद कार्रवाई की जाएगी। बाला बच्चन ने कहा कि संपत्तियों की रक्षा के लिए तत्कालीन एसडीएम मल्हारगढ़ श्रवण भंडारी ने कानूनी प्रक्रिया का पालन कर गोली चलाने का आदेश दिया था।

विपक्ष में रहते हुए राहुल ने कहा था, 'सरकार ने किसानों पर आक्रमण किया' 

मंदसौर गोलीकांड के वक्त कांग्रेस प्रदेश में विपक्ष में थी। गोलीकांड की पहली बरसी पर मंदसौर में हुई सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था, 'प्रदेश की सरकार ने किसानों पर आक्रमण किया, गोली चलाई, किसानों को मारा।' मंदसौर गोलीकांड के बाद कांग्रेस ने पूरे देश में इसे मुद्दा बनाया था। इसके अलावा कांग्रेस को अब सिंहस्थ घोटाले और पौधरोपण मामले में भी कोई खामी नहीं दे रही है। ऐसे में मामले की जांच कराने से यू-टर्न ले लिया है।

कांग्रेस ने किसानों को गुमराह किया 

गृह मंत्री बाला बच्चन के जवाब पर भाजपा ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस ने किसानों और देश को गुमराह किया है। भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि मंदसौर गोलीकांड मामले में सरकार ने यह स्वीकार किया है कि मानक प्रक्रिया का पालन किया गया था।

 

Posted By: Jagran News Network